Haryana Weather Forecast: हरियाणा में लगातार तीसरे दिन पारा पहुंचा 47 डिग्री के पार, इन 11 जिलों में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

By Vikash Beniwal

Published on:

हरियाणा में गर्मी ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है। सिरसा जिले में लगातार तीसरे दिन अधिकतम तापमान 47 डिग्री सेल्सियस के पार रहा। सोमवार को सिरसा का अधिकतम तापमान 47.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो पूरे प्रदेश में सबसे ज्यादा रहा। इतनी अधिक गर्मी ने लोगों को बेहाल कर दिया है और घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है।

करनाल का न्यूनतम तापमान

इसके अलावा करनाल में प्रदेश का न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। करनाल में रात का तापमान भी काफी अधिक था जिससे लोगों को राहत नहीं मिली। दिन में तेज धूप और रात में भी गर्मी ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।

मौसम विभाग का रेड अलर्ट

चंडीगढ़ मौसम विभाग ने 24 मई तक हरियाणा में गर्मी का रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार, आने वाले सप्ताह में अधिकतम तापमान में 2 से 3 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हो सकती है। इस दौरान 25 से 35 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है। इससे स्थिति और भी गंभीर हो सकती है।

तापमान में बढ़ोतरी

मौसम विभाग के अनुसार रविवार की तुलना में सोमवार के औसत न्यूनतम तापमान में 1.8 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई है जो सामान्य से 3.7 डिग्री सेल्सियस अधिक है। इसके अलावा, औसत अधिकतम तापमान में भी 0.2 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई है जो सामान्य से 4.9 डिग्री सेल्सियस अधिक है। इस बढ़ते तापमान ने लोगों की परेशानियों को और बढ़ा दिया है।

पंचकूला में स्कूल बंद

पंचकूला के डीसी ने जिले के सभी सरकारी, निजी, गवर्नमेंट एडेड और मान्यता प्राप्त स्कूलों में कक्षा पांचवीं तक के स्कूल 31 मई 2024 तक बंद करने के आदेश जारी किए हैं। इसके अलावा 6वीं से 12वीं कक्षा तक के छात्रों को भी गर्मी से बचाने के उपाय किए गए हैं। इन छात्रों को सुबह की शिफ्ट में बुलाया गया है ताकि वे तेज धूप से बच सकें।

नूंह में भी स्कूलों की छुट्टी

नूंह के उपायुक्त धीरेंद्र खड़गटा ने आठवीं कक्षा तक के स्कूलों की छुट्टी के आदेश जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि हीटवेव यानी लू के चलते यह फैसला लिया गया है। सभी सरकारी, निजी और एडेड स्कूलों में बाल वाटिका से लेकर आठवीं कक्षा तक के छात्रों का 20 मई से 24 मई तक अवकाश रहेगा। एडीसी मलिक ने बताया कि सभी शिक्षक और गैर शिक्षण स्टाफ पहले की तरह स्कूलों में उपस्थित रहेंगे। इन आदेशों का पालन सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी जिला शिक्षा अधिकारी, जिला प्राथमिक शिक्षा अधिकारी और डीपीसी को दी गई है।

गर्मी से बचने के उपाय

इस भयंकर गर्मी से बचने के लिए विशेषज्ञों ने कुछ सुझाव दिए हैं। लोगों को सलाह दी गई है कि वे बाहर निकलने से बचें और घर में रहकर ठंडे पेय पदार्थों का सेवन करें। इसके अलावा हल्के और सूती कपड़े पहनें और अपने शरीर को हाइड्रेटेड रखें। बच्चों और बुजुर्गों का खास ध्यान रखें क्योंकि वे गर्मी के प्रभाव में जल्दी आ सकते हैं।

प्रशासन की तैयारियाँ

हरियाणा प्रशासन ने भी इस भयंकर गर्मी से निपटने के लिए विशेष तैयारियाँ की हैं। सभी जिलों में हेल्थ सेंटर और अस्पतालों में इमरजेंसी सेवाएं बढ़ाई गई हैं। साथ ही, पानी की कमी से निपटने के लिए जल आपूर्ति सुनिश्चित की गई है। प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि वे अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें और गर्मी से बचने के उपायों का पालन करें।

Vikash Beniwal

मेरा नाम विकास बैनीवाल है और मैं हरियाणा के सिरसा जिले का रहने वाला हूँ. मैं पिछले 4 सालों से डिजिटल मीडिया पर राइटर के तौर पर काम कर रहा हूं. मुझे लोकल खबरें और ट्रेंडिंग खबरों को लिखने का अच्छा अनुभव है. अपने अनुभव और ज्ञान के चलते मैं सभी बीट पर लेखन कार्य कर सकता हूँ.