home page

योगी सरकार ने गेंहू की MSP कीमतों में किया इजाफा, केवल इन्ही किसानों को मिलेगा बढ़ी हुई क़ीमतों का फायदा

उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) ने किसानों (Farmers) के हित में एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए गेहूं (Wheat) के समर्थन मूल्य (MSP) में बढ़ोतरी की है।
 | 
योगी सरकार ने गेंहू की MSP कीमतों में किया इजाफा

उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) ने किसानों (Farmers) के हित में एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए गेहूं (Wheat) के समर्थन मूल्य (MSP) में बढ़ोतरी की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने इस निर्णय की घोषणा की है, जिसके अनुसार वर्ष 2024-25 में गेहूं का समर्थन मूल्य 2275 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है।

बटाईदार किसानों के लिए खास सौगात

इस वर्ष की सबसे बड़ी सौगात (Biggest Gift) बटाईदार किसानों (Sharecroppers) के लिए है, जिन्हें अब सरकारी क्रय केंद्रों (Government Procurement Centres) पर अपनी फसल बेचने का अधिकार मिलेगा। इस निर्णय से उन किसानों को भी लाभ होगा जो अपनी जमीन पर खेती नहीं करते लेकिन बटाई पर खेती करते हैं।

पीएफएमएस के माध्यम से भुगतान की सुविधा

सीएम योगी ने घोषणा की है कि गेहूं का मूल्य भुगतान (Payment) पीएफएमएस (PFMS) के माध्यम से 48 घंटे के अंदर सीधे किसानों के आधार लिंक खाते (Aadhaar Linked Accounts) में किया जाएगा। यह व्यवस्था किसानों को जल्द से जल्द और पारदर्शी (Transparent) भुगतान सुनिश्चित करने के लिए की गई है।

गेहूं खरीद की प्रक्रिया और प्राथमिकता

योगी सरकार ने यह भी सुनिश्चित किया है कि 1 मार्च से 15 जून 2024 तक गेहूं खरीद (Wheat Purchase) के दौरान किसानों को किसी भी प्रकार की परेशानी (Trouble) न हो। सरकार का उद्देश्य किसानों की समृद्धि और खुशहाली (Prosperity and Happiness) को बढ़ावा देना है, जो कि डबल इंजन सरकार की शीर्ष प्राथमिकता (Top Priority) है।