समुन्द्र किनारे घूमते घर ले आई कुछ अजीब चीज, पता चलने पर लगा लाखों का जुर्माना

By Vikash Beniwal

Published on:

जब भी हम किसी नए स्थान पर घूमने जाते हैं तो वहां के नियम और कानूनों की जानकारी लेना बहुत जरूरी होता है। कभी-कभी छोटी-सी गलती भारी पड़ सकती है। अमेरिका के कैलिफोर्निया में एक महिला के साथ ऐसा ही हुआ। बच्चों के साथ समुद्र तट पर घूमने गई इस महिला को प्रशासन ने 88,000 डॉलर यानी लगभग 73 लाख रुपये का जुर्माना ठोक दिया।

समुद्र तट पर खेलने की सजा

न्‍यूयॉर्क पोस्‍ट की रिपोर्ट के मुताबिक चार्लोट रस अपने बच्चों के साथ कैलिफोर्निया के पिस्मो बीच पर गई थीं। पिस्मो बीच को क्‍लैम की राजधानी भी कहा जाता है। यहां पिस्मो क्लैम नामक झींगा पाया जाता है जिसका आकार सीपियों की तरह दिखता है। बच्चों ने इन्हें सीपियां समझकर उठा लिया और यही गलती चार्लोट को भारी पड़ गई।

क्लैम उठाना था जुर्म

चार्लोट और उनके बच्चों को नहीं पता था कि पिस्मो बीच से क्लैम उठाना जुर्म है। वहां से क्लैम उठाने के लिए मछली पकड़ने का लाइसेंस होना अनिवार्य है। बच्चों ने खेल-खेल में 72 क्लैम उठा लिए और जब वे लौटने लगे, तो मत्स्य विभाग ने उन्हें पकड़ लिया और जुर्माने की रसीद थमा दी।

ईमेल ने किया हैरान

चार्लोट को लगा कि जुर्माना कुछ पैसों का होगा, जिसे वे भर देंगी। लेकिन जब उन्हें ईमेल मिला, तो वे हैरान रह गईं। मत्स्य विभाग ने उन्हें 88,993 डॉलर यानी लगभग 73 लाख रुपये जुर्माना भुगतान करने का आदेश दिया था।

कोर्ट में माफी मांगने पर मिली राहत

चार्लोट ने बताया कि इस घटना के बाद वे बहुत दुखी और उदास हो गईं। उन्होंने कहा कि उन्हें कई समुद्र तटों के नियम पता थे, लेकिन सीपियों के बारे में ऐसी जानकारी नहीं थी। लोगों की सलाह पर वे कोर्ट गईं और अपनी गलती के लिए माफी मांगी। कोर्ट ने जुर्माना घटाकर 500 डॉलर कर दिया, जिससे उन्हें 41,619 रुपये जमा करने पड़े।

वन्‍य जीवों के संरक्षण के नियम

मत्स्य विभाग ने इस घटना पर बयान जारी किया और कहा कि ये नियम इसलिए बनाए गए हैं ताकि पिस्मो क्लैम 4.5 इंच तक बढ़ सकें और अंडे देकर संतान पैदा कर सकें। पिस्मो क्लैम विशेष रूप से पूर्वी प्रशांत महासागर में पाए जाते हैं और इन्हें मोटे बड़े, त्रिकोणीय खोल से पहचाना जा सकता है। इनका रंग हल्का या भूरा होता है जिससे ये सीपियां नजर आते हैं।

Vikash Beniwal

मेरा नाम विकास बैनीवाल है और मैं हरियाणा के सिरसा जिले का रहने वाला हूँ. मैं पिछले 4 सालों से डिजिटल मीडिया पर राइटर के तौर पर काम कर रहा हूं. मुझे लोकल खबरें और ट्रेंडिंग खबरों को लिखने का अच्छा अनुभव है. अपने अनुभव और ज्ञान के चलते मैं सभी बीट पर लेखन कार्य कर सकता हूँ.