home page

UP News: यूपी के इस जिले में नई रेल्वे लाइन के लिए 82 गांवो की जमीन का होगा अधिग्रहण, जमीनों की बढ़ सकती है कीमतें

शुक्रवार को, खलीलाबाद-बहराइच नई रेल लाइन के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया के अंतर्गत बांसी के छह गांवों से 11.3 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहण की गई है
 | 
New railway line in this district of UP

शुक्रवार को, खलीलाबाद-बहराइच नई रेल लाइन के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया के अंतर्गत बांसी के छह गांवों से 11.3 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहण की गई है। रेलवे प्रशासन ने अधिग्रहीत जमीन को अधिग्रहण करना शुरू कर दिया है।

रेलवे द्वारा दिए गए 110 करोड़ रुपये 

पहले, खलीलाबाद से बांसी तक 55 किमी लंबी रेलवे लाइन बनाने के लिए लगभग 82 गांवों की लगभग 260 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहण की जरूरत है। संतकबीर नगर को पूर्वोत्तर रेलवे ने 110 करोड़ रुपये दिए हैं, जबकि सिद्धार्थनगर जिला प्रशासन को 55 करोड़ रुपये दिए गए हैं।

NER के सीपीआरओ पंकज सिंह ने बताया कि खलीलाबाद से बांसी की मध्य भूमि अधिग्रहण शुरू हो गया है। भूमि मिलते ही काम शुरू करने के लिए टेंडर भी चल रहा है।

गोरखपुर से बहराइचल के लिए जल्द ही सीधी रेल सेवा शुरू होगी

गोरखपुर से बहराइच की सीधी ट्रेन जल्द ही शुरू होगी। रेल प्रबंधन को इसके लिए कोई नई ट्रेन चलाने की आवश्यकता नहीं होगी।

गोरखपुर से बनारस जाने वाली ट्रेन बहराइच तक चलेगी। गोरखपुर से आसनसोल तक चलने वाली आसनसोल एक्सप्रेस को बहराइच तक बढ़ाने की भी योजना है।

गोरखपुर जंक्शन पर ट्रेनों का निरंतर दबाव बढ़ रहा है। यही कारण है कि स्टेशन प्रबंधन गोरखपुर में टर्मिनेट होने वाली ट्रेनों को दूसरे स्टेशनों पर स्थानांतरित करने की योजना बना रहा है।

इससे जंक्शन से ट्रेनों का लोड कम होगा और दूसरे स्टेशनों पर ट्रेनों की संख्या बढ़ जाएगी। गोरखपुर प्लेटफार्म भी 10 मिनट में खाली जाएगा।