home page

टॉप 5 देश जहां भारत से कम खर्चे में हो जाएगी मेडिकल की पढ़ाई, जाने MBBS करने के लिए कितनी लगेगी फीस

डॉक्टर बनना कई युवाओं का सपना होता है, लेकिन इस सपने को साकार करने के लिए उन्हें कई बार आर्थिक चुनौतियों का सामना करना पड़ता है।
 | 
cheapest medical course country

डॉक्टर बनना कई युवाओं का सपना होता है, लेकिन इस सपने को साकार करने के लिए उन्हें कई बार आर्थिक चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। विशेषकर वे छात्र जो विदेशों में मेडिकल की पढ़ाई (MBBS) करना चाहते हैं, उनके लिए यह एक बड़ी चुनौती हो सकती है।

भारत में NEET की परीक्षा पास करने के बाद भी, अगर अच्छे मार्क्स नहीं मिले तो प्राइवेट मेडिकल कॉलेजों की मोटी फीस एक बड़ी बाधा बन जाती है। ऐसे में विदेश में पढ़ाई करना एक विकल्प के रूप में सामने आता है।

बेलारूस है सस्ती शिक्षा का एक आदर्श स्थान

बेलारूस, एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए सबसे किफायती देशों में से एक है। यहां मासिक रहने का खर्च 15 से 20 हजार रुपये के बीच होता है। छात्रों को बेहतरीन शैक्षिक सुविधाएं (Education Facility) मिलती हैं और यहां से प्राप्त डिग्री को WHO और NMC द्वारा पूरी दुनिया में मान्यता प्राप्त है।

कजाकिस्तान है गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का केंद्र

कजाकिस्तान में MBBS की पढ़ाई 5 वर्षों की होती है और यहां शिक्षा का स्तर भी काफी हाई है। इस देश की मेडिकल यूनिवर्सिटीज (Medical Universities) से डिग्री प्राप्त करने के बाद भारत में प्रैक्टिस करने के लिए FMGE पास करना होता है।

रुस है पारंपरिक और अनुभवी शिक्षा का गढ़

रूस में MBBS कोर्स की अवधि 6 साल की होती है। यहां की यूनिवर्सिटीज (Universities) पुरानी और अनुभव समृद्ध हैं। छात्रों को यहां पढ़ाई के बाद भारत में इंटर्नशिप करनी पड़ती है।

फिलीपींस में है क्लिनिकल प्रैक्टिस पर जोर

फिलीपींस में मेडिकल की पढ़ाई कम खर्च में उपलब्ध है और यहां का पाठ्यक्रम क्लिनिकल प्रैक्टिस (Clinical Practice) पर जोर देता है। छात्रों को अनुभवी डॉक्टरों के मार्गदर्शन में काम करने का मौका मिलता है।

चीन है भारतीय छात्रों के लिए एक पसंदीदा डेस्टिनेशन

चीन में MBBS की पढ़ाई की अवधि 5+1 वर्ष की होती है और यहां भारतीय छात्रों के लिए स्कॉलरशिप (Scholarship) की सुविधा भी होती है। चीन में पढ़ाई के दौरान और इंटर्नशिप के बाद छात्रों को भारत में प्रैक्टिस करने की पूरी छूट होती है।