home page

School Bus Colour: दुनियाभर में स्कूल बस का पीला रंग ही क्यों होता है, जाने इसके पीछे की असली वजह

हमारे आस-पास की सड़कों पर अनेकों रंगों की गाड़ियाँ दौड़ती नज़र आती हैं लेकिन स्कूल बसें हमेशा पीले रंग में ही दिखाई देती हैं। यह कानून केवल भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर के देशों में भी पालन की जाती है।
 | 
why-are-school-buses-yellow-in-colour

हमारे आस-पास की सड़कों पर अनेकों रंगों की गाड़ियाँ दौड़ती नज़र आती हैं लेकिन स्कूल बसें हमेशा पीले रंग में ही दिखाई देती हैं। यह कानून केवल भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर के देशों में भी पालन की जाती है। तो आखिर क्यों स्कूल बसों को इस विशेष रंग में पेंट किया जाता है?

पीला रंग चुनने की वजह

पीला रंग विशेषतः इसलिए चुना गया है क्योंकि यह दूरी से भी आसानी से देखा जा सकता है। लाल रंग की भांति जो खतरे का संकेत देता है पीला रंग सुरक्षा और सतर्कता का प्रतीक है। इसके अलावा विशेषज्ञों का मानना है कि पीले रंग की Lateral Peripheral Vision लाल रंग की तुलना में 1.24 गुना अधिक होती है जिससे यह अन्य रंगों की अपेक्षा ज्यादा आकर्षित करता है और जल्दी नजर आता है।

हर मौसम में अच्छी विजिबिलिटी

चाहे कोई भी मौसम क्यों न हो, पीले रंग की विजिबिलिटी हमेशा सबसे अच्छी रहती है। सर्दी, गर्मी, बरसात या घना कोहरा पीला रंग हमेशा आसानी से दिखाई देता है। इस रंग की खासियत है कि यह सबसे पहले ध्यान आकर्षित करता है जो बच्चों के सुरक्षित यात्रा के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है।

अमेरिका में पीले रंग की पुष्टि

दिलचस्प बात यह है कि सन 1930 में अमेरिका ने वैज्ञानिक अध्ययनों के माध्यम से इस बात की पुष्टि की कि पीले रंग में अन्य रंगों की अपेक्षा अधिक आकर्षण होता है। इसके बाद यह रंग स्कूल बसों के लिए एक वैश्विक मानक के रूप में स्थापित हो गया।