home page

अयोध्या में राम के लिए दौड़ेंगे देशभर से आए धावक, विजेताओं को मिलेगा 27 लाख रुपए का नगद इनाम

10 मार्च को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद दूसरा सबसे बड़ा इवेंट होने वाला है। इसमें देश भर से लोगों को राम के लिए दौड़ लगाने अयोध्या में जमा होना हैं
 | 
story-run-for-ram-marathon

10 मार्च को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद दूसरा सबसे बड़ा इवेंट होने वाला है। इसमें देश भर से लोगों को राम के लिए दौड़ लगाने अयोध्या में जमा होना हैं। भारतीय अयोध्या में एक क्रीड़ा कार्यक्रम रन फॉर राम होने जा रहा है। 27 लाख रुपये की नकद इनामी राशि इसमें दांव पर होगी।

यह किसी भी भारतीय मैराथन में मिलने वाली सबसे बड़ी पुरस्कार राशि है। ‘रन फॉर राम’ के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने दिल्ली में इसकी वेबसाइट और ऑनलाइन पंजीकरण की शुरुआत की है। भारतीय ओलंपिक संघ की अध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य पीटी ऊषा ने इसका लोगो जारी किया है।

ये देश की सबसे बड़ी दौड़ होगी

उत्तर प्रदेश क्रीड़ा भारती के अध्यक्ष एमएलसी इंजीनियर अवनीश कुमार सिंह ने कहा, की यह दौड़ देश की सबसे बड़ी दौड़ होगी। 16,000 धावक शायद इसमें भाग लेंगे। रेस में चार दौड़ होंगी: पूरा मैराथन (42.195 किलोमीटर), हाफ मैराथन (21 किलोमीटर), 10 किलोमीटर और 5 किलोमीटर।

देश के प्रसिद्ध धावक इसमें भाग लेंगे। साथ ही युवा धावक अपना दमखम दिखाएंगे। आम जनता पांच किलोमीटर की दौड़ में भाग लेगी। पांच किलोमीटर की दौड़ में कोई भी इसमें भाग ले सकेगा।

बीते वर्ष भी हुआ था खेल आयोजन

उनका कहना था कि पिछले वर्ष श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट ने क्रीड़ा भारती के साथ मिलकर एक सप्ताह का खेल आयोजन किया था। रामलला अब अपने विशाल मंदिर में विराजमान हैं। 14 कोसी परिक्रमा पथ, श्रीराम जन्मभूमि पथ, धर्मपथ और भक्ति पथ अयोध्या धाम में बनाया जा रहा है, जो मैराथन के लिए उपयुक्त होगा।

अयोध्या में मैराथन के आयोजन से दुनिया भर इसकी चर्चा होगी और लोगो का ध्यान आकर्षित होगा। यह मैराथन अगले कुछ वर्षों में बोस्टन, लन्दन और टोक्यो में सबसे बड़ा आयोजन बन जाएगा। उनका कहना था कि इस बार ओपेन एंट्री है। अगले वर्ष राज्य के सभी जिलों में रन फॉर राम होगा। इससे चुने गए धावकों को अगले वर्ष अयोध्या में होने वाली रन फॉर राम में भाग लेने का मौका मिलेगा।