home page

Pet Rules: गाजियाबाद में कुत्ता पालने पर 5 गुना ज्यादा बढ़ने वाला है खर्चा, साथ ही अनिवार्य होंगे ये 7 नियम

Pet Rules: गाजियाबाद में एक अप्रैल से कुत्ता पालने के खर्चे में वृद्धि होने जा रही है। नगर निगम ने पालतू कुत्तों (Pet Dogs) के पंजीकरण शुल्क को 200 रुपये से बढ़ाकर 1,000 रुपये करने का निर्णय लिया है।
 | 
Ghaziabad Municipal Corporation

Pet Rules: गाजियाबाद में एक अप्रैल से कुत्ता पालने के खर्चे में वृद्धि होने जा रही है। नगर निगम ने पालतू कुत्तों (Pet Dogs) के पंजीकरण शुल्क को 200 रुपये से बढ़ाकर 1,000 रुपये करने का निर्णय लिया है। इसके अलावा पंजीकरण न कराने पर 5,000 रुपये का जुर्माना लगेगा। यह कदम शहर में पालतू कुत्तों की बेहतर स्वास्थ्य और कल्याण सेवाओं को सुनिश्चित करने के लिए उठाया गया है।

पंजीकरण और जुर्माने में बदलाव

गाजियाबाद में करीब 15,000 पालतू कुत्ते हैं, जिनमें से केवल 6,000 का पंजीकरण हुआ है। नगर निगम के इस नए नियम के अनुसार हर वर्ष पंजीकरण का रिन्यू करवाना भी आवश्यक होगा, जिसकी फीस अब 500 रुपये होगी। पंजीकरण न कराने पर लगने वाला जुर्माना न केवल आर्थिक बोझ बढ़ाएगा, बल्कि लोगों को पालतू कुत्तों के पंजीकरण की ओर प्रोत्साहित भी करेगा।

पालतू कुत्तों के लिए नियम

निगम ने कुछ महत्वपूर्ण नियम भी निर्धारित किए हैं, जैसे कि एक फ्लैट में अधिकतम दो कुत्तों का ही पंजीकरण कराया जा सकता है. और पालतू कुत्तों द्वारा की गई गंदगी की सफाई की जिम्मेदारी मालिक की होगी। साथ ही पिटबुल, रॉटविलर और डोगो अर्जेंटीनो जैसी आक्रामक नस्लों के कुत्तों को पालना गैरक़ानूनी है।

सामुदायिक सुरक्षा और कल्याण

इन नियमों का मुख्य उद्देश्य सामुदायिक सुरक्षा और पालतू कुत्तों के कल्याण को सुनिश्चित करना है। पालतू कुत्तों के काटने की घटनाओं पर भी 5,000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा. जो कि मालिकों को अपने कुत्तों को नियंत्रण में रखने और उनकी उचित देखभाल करने के लिए प्रेरित करेगा।

नगर निगम की इस पहल का उद्देश्य पालतू कुत्तों के प्रति जिम्मेदारी और जागरूकता बढ़ाना है। यह सुनिश्चित करने के लिए कि सभी पालतू कुत्ते स्वस्थ और सुरक्षित रहें, साथ ही सामुदायिक सदस्यों की सुरक्षा की गारंटी दी जा सके।