home page

बूढ़े से ताऊ ने मिनटों में ही केमिकल से बनाकर रख दी पत्तागोभी, कैमरे में हो गई कैद वरना लोगों को नही चल पाता पता

आजकल सोशल मीडिया (Social Media) पर एक वीडियो चर्चा का विषय बना हुआ है, जिसमें एक व्यक्ति कैमिकल्स (Chemicals) की मदद से कुछ ही सेकंड्स में पत्तागोभी (Cabbage) तैयार कर लेता है।
 | 
making process of artificial cabbage

आजकल सोशल मीडिया (Social Media) पर एक वीडियो चर्चा का विषय बना हुआ है, जिसमें एक व्यक्ति कैमिकल्स (Chemicals) की मदद से कुछ ही सेकंड्स में पत्तागोभी (Cabbage) तैयार कर लेता है। इस वीडियो को देखकर लोग हैरान हैं कि कैसे एक साधारण सब्जी जो आमतौर पर खेतों में उगाई जाती है, को अब रासायनिक पदार्थों की मदद से बनाया जा सकता है।

तकनीकी का अनोखा प्रदर्शन

इस वीडियो में दिखाई गई प्रक्रिया ने न केवल लोगों को हैरान किया है, बल्कि इसने कृत्रिम खाद्य पदार्थों (Artificial Food Products) के निर्माण पर एक नई बहस को भी जन्म दिया है। वीडियो में एक बुजुर्ग व्यक्ति पहले पानी में एक सफेद लिक्विड डालता है

उसके बाद पीले और हरे रंग के लिक्विड को मिलाकर पत्तागोभी का आकार देता है। भले ही यह प्रक्रिया विज्ञान के क्षेत्र की एक उपलब्धि है पर असल में यह खाद्य सुरक्षा (Food Safety) और स्वास्थ्य (Health) के प्रति भी एक चिंता जाहिर करती है।

सामाजिक प्रतिक्रिया

इस वीडियो को देखने के बाद लोगों की प्रतिक्रियाएं मिली-जुली रही हैं। कुछ लोगों ने इसे चीनी इनोवेशन (Chinese Innovation) के रूप में सराहा है, जबकि अन्य ने इसे स्वास्थ्य के लिए संभावित खतरा माना है। सोशल मीडिया पर इस वीडियो के वायरल (Viral) होने के बाद कई लोगों ने इसे चीनी माल (Chinese Goods) के रूप में ताना मारते हुए कहा है कि यह वीडियो जापान का हो सकता है।

खाद्य सुरक्षा पर उठते सवाल

यह वीडियो खाद्य सुरक्षा (Food Security) और खाद्य पदार्थों के कृत्रिम निर्माण (Artificial Production) पर एक गंभीर सवाल उठाता है। क्या हम ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करने के लिए तैयार हैं, जो प्राकृतिक रूप से नहीं बल्कि रसायनों के माध्यम से बनाए गए हैं? इसके अलावा इस तरह के खाद्य पदार्थों के स्वास्थ्य पर प्रभाव (Health Impact) के बारे में भी चिंताएं उठती हैं।