home page

अब रविवार के दिन भी बैंकों में काम करेंगे कर्मचारी, इस कारण लेना पड़ा डिसीजन

छत्तीसगढ़ सरकार की महतारी वंदन योजना जो विवाहित, तलाकशुदा और विधवा महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करती है, आजकल बैंकों में अत्यधिक भीड़ का कारण बनी हुई है।
 | 
bank-update-banks-open-on-sunday

छत्तीसगढ़ सरकार की महतारी वंदन योजना जो विवाहित, तलाकशुदा और विधवा महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करती है, आजकल बैंकों में अत्यधिक भीड़ का कारण बनी हुई है। इस योजना के अंतर्गत आधार सीडिंग की प्रक्रिया में आई बाधाओं ने लाभार्थियों को बैंकों की ओर धकेल दिया है, जिससे प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में लंबी कतारें लग रही हैं।

आधार सीडिंग की चुनौतियां

बैंक शाखाओं में जमा हो रही भीड़ का मुख्य कारण आधार सीडिंग की प्रक्रिया में आने वाली तकनीकी बाधाएं हैं। विशेष रूप से सर्वर डाउन (Server Down) होने की समस्या से कई लाभार्थियों का काम नहीं हो पा रहा है। इसके फलस्वरूप दूर-दराज से आई महिलाओं को अगले दिन फिर से लाइन में खड़ा होने की असुविधा का सामना करना पड़ रहा है।

समयसीमा और जिला प्रशासन की पहल

जिला कलेक्टर ने इस समस्या का समाधान करते हुए जिले की सभी बैंक शाखाओं को निर्देश दिया है कि वे रविवार को भी खुली रहें, ताकि आधार सीडिंग और खाता सक्रियता से संबंधित कार्य सुचारु रूप से पूरा किया जा सके। इस निर्देश का उद्देश्य है कि कोई भी पात्र लाभार्थी इस योजना से वंचित न रहे।

लाभार्थियों की स्थिति

यह जानकारी सामने आई है कि जिले में 30 हजार 538 लाभार्थियों का खाता अभी तक आधार से लिंक नहीं हुआ है। 1 मार्च तक केवल 10 हजार खातों में ही आधार लिंक हो सका है, जबकि 20 हजार खातों में ई-केवाईसी की प्रक्रिया अभी बाकी है।

महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि महतारी वंदन योजना के अंतर्गत आने वाले सभी पात्र लाभार्थियों को उनके खातों में आवश्यक भुगतान समय पर मिले। इसके लिए 08 मार्च को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से भुगतान किया जाना है।