home page

भारत के इस राज्य में मिलती है सबसे सस्ती शराब, चाय की जगह दो पेग लगाकर करते है दिन की शुरुआत

देश के हर राज्य में शराब की कीमतें अलग-अलग हैं। इसकी वजह वहाँ शराब पर लगने वाले अलग-अलग टैक्स है
 | 
bharat me sabse sasti sharab

देश के हर राज्य में शराब की कीमतें अलग-अलग हैं। इसकी वजह वहाँ शराब पर लगने वाले अलग-अलग टैक्स है। इसलिए एक राज्य में जो शराब की बोतल 100 रुपये की है। वो दूसरे राज्य में यह पांच सौ रुपये से भी अधिक की हो सकती है। क्या आप जानते हैं कि देश में सबसे सस्ता शराब कहां मिलती है? अगर नहीं तो चलिए आपको बताते हैं..।

लोगों का मानना है कि दिल्ली-हरियाणा में सबसे सस्ती शराब मिलती है। यही कारण है कि गोवा शराब पीने वालों के लिए एक जन्नत है। यदि इन राज्यों में सबसे सस्ती शराब मिलती है, तो बहुत कम लोग जानते होंगे कि किन राज्यों में सबसे महंगी शराब मिलती है। ‘इंटरनेशनल स्पिरिट्स एंड वाइन्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया’ ने इसका अध्ययन किया है।

गोवा में शराब पर 49% टैक्स लगता है

गोवा में शराब पर 49% टैक्स लगाया जाता है। यह दिखने में बहुत अधिक है, लेकिन यह देश के उन राज्यों में से एक है जहां शराब पर सबसे कम टैक्स लगाया जाता है। इसलिए गोवा पर्यटकों और शराब पीने वालों के लिए जन्नत है। पास के राज्यों के मुकाबले कम टैक्स की वजह से बहुत से लोग गोवा जाते हैं ताकि अपने शराब पीने का शौक पूरा कर सकें।

हरियाणा में शराब पर गोवा से भी कम टैक्स लगाता है। यहां शराब पर टैक्स महज 47% टैक्स लगता है, जबकि देश की राजधानी दिल्ली में शराब पर 62% टैक्स लगता है।

कर्नाटक में सबसे महंगी शराब

माना जाता है कि कर्नाटक में शराब पर सबसे अधिक टैक्स लगाता है। यहां MRP पर टैक्स दर 83% है। गोवा में जिस बोतल की कीमत 100 रुपये हो सकती है उसी शराब की बोतल की कीमत कर्नाटक में 500 रुपये से भी अधिक की हो सकती है। हरियाणा में इसी बोतल की कीमत 147 रुपये हो सकती है, लेकिन दिल्ली में ये 134 रुपये में मिल सकती है।

महाराष्ट्र में भी शराब पर 71 प्रतिशत टैक्स लगाया जाता है। गोवा में 100 रुपये की मिलने वाली शराब,महाराष्ट्र में 226 रुपये की होगी, और तेलंगाना में 246 रुपये की होगी, क्योंकि वहां एमआरपी 68 प्रतिशत है।

यदि कोई शराब गोवा में 100 रुपये की है तो इन आठ राज्यों में उसकी कीमत ये होगी

  • गोवा – 100 रुपये
  • दिल्ली – 134 रुपये
  • हरियाणा – 147 रुपये
  • उत्तर प्रदेश – 197 रुपये
  • राजस्थान – 213 रुपये
  • महाराष्ट्र – 226 रुपये
  • तेलंगाना – 246 रुपये
  • कर्नाटक – 513 रुपये

उदाहरण के लिए, दिल्ली में ब्लैक लेबल की एक बोतल 3100 रुपये की मिलती है, जबकि मुंबई में यही बोतल 4000 रुपये की मिलती है। इसलिए शराब की एक राज्य से दूसरे राज्य में बहुत तस्करी की जाती है। वर्तमान में पेट्रोलियम और अल्कोहल जीएसटी से बाहर हैं। इसलिए राज्य इन पर अलग-अलग टैक्स लगाते हैं।