home page

भारतीय रेल्वे TRAIN का नाम रखने के लिए इस ट्रिक का करती है इस्तेमाल, पढ़े लिखे लोगों को भी नही पता ये जानकारी

लाखों लोग भारतीय ट्रेनों में सफर करते हैं। खास बात यह है कि भारत एक ऐसा देश है जहां हजारों ट्रेनें और 7000 से अधिक रेलवे स्टेशन हैं
 | 
INDIAN RAILWAY TRAIN name fact

लाखों लोग भारतीय ट्रेनों में सफर करते हैं। खास बात यह है कि भारत एक ऐसा देश है जहां हजारों ट्रेनें और 7000 से अधिक रेलवे स्टेशन हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ट्रेन का नाम कैसे रखा जाता है? अगर आप नहीं जानते तो आज हम आपको इसके बारे में बताने वाले है. आइए जानते हैं इसके बारे में।

जाने कैसे रखती है भारतीय रेलवे ट्रेन का नाम

रेलवे किसी भी ट्रेन को नाम देते समय तीन चीजों का खास ख्याल रखती है: राजधानी स्थान और लोकेशन। इन तीनों को मिलाकर भारतीय रेलवे ट्रेन का नाम रखती है। जैसा कि हम देखते हैं, राजधानी एक्सप्रेस का नाम इसलिए राजधानी है क्योंकि यह ट्रेन दिल्ली, भारत की राजधानी, के अलावा अन्य राज्यों में भी चलती है। इसके अलावा, यह ट्रेन बहुत तेज है। इसलिए इसे राजधानी एक्सप्रेस नाम दिया गया है।

कुछ ट्रेनों के नाम लोकेशन के अनुसार

इसके अलावा, रेलवे कुछ ट्रेनों को स्थान के अनुसार नाम देता है। कामाख्या कटरा की तरह वैष्णो देवी का दर्शन करने के लिए यह ट्रेन चलाई गई है। यह सीधे कामाख्या से कटरा जाती है। ऐसे में इसका नाम भी स्थान पर निर्धारित है। यही नहीं, कुछ ट्रेनों के नाम लोकेशन के हिसाब भी रखे गए हैं।

एक ही नाम की कई ट्रेने

रणथंभौर एक्सप्रेस, चारमीनार एक्सप्रेस और ईस्ट कोस्ट एक्सप्रेस जैसी बहुत सी ट्रेने हैं। जिनके नाम स्थान पर रखे गए हैं रेलवे ने इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए ट्रेन का नाम निर्धारित करता है और इसे यात्रियों के लिए चलाता है। इतना ही नहीं, कई ट्रेनें एक ही नाम से चलती हैं. हम आपको बता देंगे कि राजस्थान संपर्क क्रांति एक्सप्रेस और क्रांति एक्सप्रेस नामक कई ट्रेनें हैं जो कई राज्यों में चलती हैं और उनके नाम मिलते-जुलते हैं।