home page

Indian Railway: इस राज्य में है देश का 171 साल पुराना रेल्वे स्टेशन, आज भी 10 लाख से ज्यादा यात्री करते है सफर

Indian Railway: भारत में रेलगाड़ी का पहला सफर 1853 में शुरू हुआ था, जिसके साथ ही भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने अपने विकास की यात्रा आरंभ की।
 | 
indian-railway-this-is-the-171yearold-railway

Indian Railway: भारत में रेलगाड़ी का पहला सफर 1853 में शुरू हुआ था, जिसके साथ ही भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने अपने विकास की यात्रा आरंभ की। आज 170 वर्षों के बाद भारतीय रेलवे ने अपनी सेवाओं और संरचना में विशाल प्रगति की है। एक समय में केवल एक ट्रेन से शुरू होकर आज भारतीय रेलवे प्रतिदिन 13,452 यात्री ट्रेनों (Passenger Trains) का संचालन करता है, जो 7,325 स्टेशनों (Stations) को जोड़ती हैं।

प्राचीन रेलवे स्टेशनों की धरोहर

भारत के कई रेलवे स्टेशन 150 वर्षों से अधिक पुराने हैं, जो न केवल यात्रा के माध्यम के रूप में बल्कि ऐतिहासिक महत्व (Historical Importance) के गवाह भी हैं। इनमें से प्रमुख हैं हावड़ा जंक्शन (Howrah Junction), छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (CST Railway Station)

पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन (Old Delhi Railway Station), रोयापुरम रेलवे स्टेशन (Royapuram Railway Station), और वीरांगना लक्ष्मीबाई रेलवे स्टेशन (Veerangana Lakshmibai Railway Station)। इन स्टेशनों का इतिहास भारतीय रेलवे के विकास और भारतीय समाज में इसके महत्व को दर्शाता है।

हावड़ा जंक्शन है पश्चिम बंगाल का गौरव

हावड़ा जंक्शन (Howrah Junction) जिसका निर्माण 1852 में हुआ था, पश्चिम बंगाल में रेलवे की शान है। 23 प्लेटफार्मों (Platforms) के साथ, यह रेलवे स्टेशन प्रतिदिन 10 लाख से अधिक यात्रियों (Passengers) की सेवा करता है।

छत्रपति शिवाजी टर्मिनस है मुंबई की खूबसूरती

मुंबई में स्थित छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (CST Railway Station) अपनी भव्यता और ऐतिहासिक महत्व के लिए प्रसिद्ध है। 1853 में निर्मित यह रेलवे स्टेशन देश के सबसे व्यस्त स्टेशनों (Busy Stations) में से एक है।

पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन है दिल्ली का इतिहास

1864 में शुरू हुआ पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन (Old Delhi Railway Station) दिल्ली के सबसे व्यस्त इलाके चांदनी चौक (Chandni Chowk) के पास स्थित है। इसकी आकार और संरचना में समय के साथ कई बदलाव हुए हैं।

दक्षिण भारत का पहला रेलवे स्टेशन है रोयापुरम

रोयापुरम रेलवे स्टेशन (Royapuram Railway Station) 1856 में शुरू हुआ, दक्षिण भारत का पहला रेलवे स्टेशन है। यह चेन्नई में स्थित है और हर दिन कई लोकल और एक्सप्रेस ट्रेनों (Express Trains) का संचालन करता है।

उत्तर प्रदेश के गौरव है वीरांगना लक्ष्मीबाई और चारबाग स्टेशन

झांसी शहर में स्थित, वीरांगना लक्ष्मीबाई रेलवे स्टेशन (Veerangana Lakshmibai Railway Station) का नाम महारानी लक्ष्मीबाई के सम्मान में रखा गया है। वहीं लखनऊ का चारबाग रेलवे स्टेशन (Charbagh Railway Station) अपनी भव्य संरचना और चारों ओर सुंदर पार्कों के लिए प्रसिद्ध है।

ये रेलवे स्टेशन न केवल यात्रियों के लिए सुविधा के केंद्र हैं बल्कि भारतीय रेलवे के इतिहास और संस्कृति के महत्वपूर्ण हिस्से भी हैं। इनकी ऐतिहासिक विरासत और संरचनात्मक सुंदरता भारतीय रेलवे के विकास की कहानी कहती है।