home page

घोंसले में घुसा सांप तो बच्चों को बचाने के लिए किया ये काम, विडियो देखकर तो आप भी मां की ममता को करेंगे सलाम

मातृत्व की महानता को शब्दों में बयां कर पाना असंभव है। यह कहावत (Proverb) कि "मां से बढ़कर कोई नहीं" सिर्फ एक वाक्य नहीं, बल्कि एक अटूट सच्चाई है।
 | 
bird snake fight

मातृत्व की महानता को शब्दों में बयां कर पाना असंभव है। यह कहावत (Proverb) कि "मां से बढ़कर कोई नहीं" सिर्फ एक वाक्य नहीं, बल्कि एक अटूट सच्चाई है। मां चाहे इंसान हो या पशु-पक्षी (Animals and Birds), अपनी संतान के लिए किसी भी हद तक जा सकती है, यहाँ तक कि अपनी जान की बाजी लगाने से भी पीछे नहीं हटती।

एक चिड़िया ने दिखाई  वीरता

सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल होने वाले वीडियोज (Viral Videos) में से एक वीडियो ने सभी का दिल छू लिया है। इस वीडियो में दिखाया गया है कि कैसे एक माँ चिड़िया ने अपने बच्चों को जहरीले सांप (Poisonous Snake) से बचाने के लिए अपनी जान की बाजी लगा दी। इस घटना को स्टीव ब्रैसल (Steve Brassel) ने इंस्टाग्राम पर शेयर किया, जिसे लाखों लोगों ने देखा और सराहा है।

जीवन और मृत्यु की लड़ाई

वीडियो में दिखाई देता है कि एक जहरीला सांप चिड़िया के घोंसले में घुसने का प्रयास कर रहा था। माँ चिड़िया की नजर सांप पर पड़ी, तुरंत अपने बच्चों को खतरे में देखा और बिना किसी डर के सांप से भिड़ गई। उसने अपनी चोंच से सांप को बार-बार खींचने की कोशिश की और अंततः उसे नीचे गिरा दिया।

मातृत्व की आहुति

इस संघर्ष के दौरान माँ चिड़िया ने अपने बच्चों को तो बचा लिया, लेकिन खुद को सांप के चंगुल से नहीं छुड़ा पाई। सांप ने उसे जकड़ लिया, और उसकी मृत्यु हो गई। यह घटना न केवल उस माँ की वीरता को बताती है बल्कि मातृत्व के अटूट प्रेम और त्याग को भी प्रकाश में लाती है।

वीडियो की प्रतिक्रिया और संदेश

इंस्टाग्राम पर इस वीडियो को मिली प्रतिक्रिया (Reactions) ने दिखाया है कि कैसे मातृत्व की भावना सभी को छू लेती है, चाहे वह इंसान हो या पशु। यह वीडियो हमें याद दिलाता है कि प्रेम, साहस, और त्याग की भावनाएँ सबसे शक्तिशाली होती हैं, और ये मातृत्व में सबसे अधिक प्रखर रूप से प्रकट होती हैं।