home page

ख़त्म हो गई है अगर PUC तो पेट्रोल पंप का कटेगा 10000 का चालान, यहाँ जानें विभाग के ये नियम

आपको बता दे कि यदि आपके वहन का पीयूसी सर्टिफिकेट नहीं बना है तो इसे जल्द बनवा ले क्योंकि दिल्ली परिवहन विभाग ने 25 पेट्रोल पंपों पर कैमरे लगाए हैं.
 | 
puc certificate challan

आपको बता दे कि यदि आपके वहन का पीयूसी सर्टिफिकेट नहीं बना है तो इसे जल्द बनवा ले क्योंकि दिल्ली परिवहन विभाग ने 25 पेट्रोल पंपों पर कैमरे लगाए हैं. इन कैमरे के इस्तेमाल से आपका पीयूसी सर्टिफिकेट चेक किया जाएगा और यदि

आपका पीयूसी सर्टिफिकेट वैलिड नहीं पाया गया तो आपके फोन पर एक मैसेज चला जाएगा. जिसमें लिखा होगा कि 3 घंटे के अंदर आप अपना पीयूसी सर्टिफिकेट बनवा ले और यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपके खाते से ₹10000 काट लिए जाएंगे.

परिवहन विभाग की नई सुविधा

ट्रायल के लिए इस सुविधा को पिछले सोमवार से ही लागू कर दिया गया है. लगभग दिल्ली में 950 जगह ऐसी है, जहां पर पीयूसी सर्टिफिकेट बनाये जाते हैं और लगभग हर पेट्रोल पंप में इसकी सुविधा दी जाती है. दिल्ली के 11 जिलों में लगभग दो पेट्रोल पंप पर कैमरे लगा दिए गए हैं

और वहीं कुछ जिलों में तीन पेट्रोल पंप पर कैमरे लगाए गए हैं. इनसे दिल्ली परिवहन विभाग द्वारा पीयूसी सर्टिफिकेट ना होने वाले वाहनों का ई-चालान काटने के लिए पेट्रोल पंप के मालिकों को कहा गया है.  जानकारी दी गई है यदि लोगों को पता चल गया

कि इस पेट्रोल पंप पर कैमरे लगाए गए हैं तो लोग वहां नहीं आएंगे। इस पर सरकार ने उन्हें आश्वासत करते हुए कहा है कि उनकी लोकेशन को सार्वजनिक नहीं किया जाएगा. पूरी दिल्ली में लगभग 25 पेट्रोल पंप पर भी ट्रायल के लिए कैमरे लगाए गए हैं.

पीयूसी की जांच दर

दो पहिया वाहनों की पीयूसी की जांच करने के लिए ₹60 देने होते हैं. वही चार पहिया वाहनों की पीयूसी की जांच का खर्चा ₹80 तक आता है. डीजल वाहनों का पीयूसी चेक करवाने के लिए लगभग ₹100 देने होते हैं. इसके अंतर्गत 18% जीएसटी अलग से लिया जाता है.

यही कारण है कि कई लोग पीयूसी जांच से घबराते हैं और वह समय पर जांच नहीं कराते। इसी समस्या से निपटने के लिए अलग- अलग पेट्रोल पंप पर कैमरे लगाए है.परिवहन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि यह केवल नियमों का पालन करने के लिए नहीं है बल्कि अपने ही वातावरण को स्वच्छ रखने के लिए है.