home page

एक कार की बिक्री होने पर शोरूम मालिक को कितना मिलता है कमीशन, महीने की कमाई जानकर तो आपको भी नही होगा भरोसा

जब भी हम कोई कार (Car) खरीदते हैं, हमें अक्सर यह जिज्ञासा होती है कि इस खरीद पर डीलर (Dealer) को कितना फायदा (Profit) होता है।
 | 
_car showroom owner commision after car selling

जब भी हम कोई कार (Car) खरीदते हैं, हमें अक्सर यह जिज्ञासा होती है कि इस खरीद पर डीलर (Dealer) को कितना फायदा (Profit) होता है। आमतौर पर खरीदारों को इस बात की सटीक जानकारी नहीं होती कि एक कार की असली कीमत (Actual Price) क्या है और उस पर डीलर का मार्जिन कितना होता है। आइए इस लेख में हम इस विषय पर गहराई से चर्चा करते हैं।

डीलर्स का मार्जिन

फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर एसोसिएशन (Federation of Automobile Dealers Association) द्वारा कराए गए एक सर्वे के अनुसार भारत में डीलर्स को मिलने वाला मार्जिन (Margin) अंतरराष्ट्रीय मानकों के मुकाबले काफी कम होता है। यहां के डीलर्स को एक कार बिकने पर मात्र 5% से भी कम का मार्जिन मिलता है, जो एक्स-शोरूम कीमत (Ex-Showroom Price) पर आधारित होता है।

कंपनी और सेगमेंट निर्भरता

डीलर्स को मिलने वाला मार्जिन विभिन्न कंपनियों (Companies) और कारों के सेगमेंट (Segment) या क्षेत्र (Region) पर भी निर्भर करता है। जैसे कि एमजी मोटर्स (MG Motors) और मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) जैसी कुछ कंपनियां अपने डीलर्स को अधिक मार्जिन प्रदान करती हैं, जो कि 5% या उससे अधिक हो सकता है।

टैक्स की भूमिका

कार खरीदने की प्रक्रिया में रोड टैक्स (Road Tax), जीएसटी (GST) समेत विभिन्न प्रकार के टैक्स भी शामिल होते हैं, जो हर सेगमेंट की कार पर अलग-अलग होते हैं। उदाहरण के लिए 1500 सीसी से कम वाली कारों पर 28% जीएसटी और उस पर 17% तक के अन्य चार्जेज लगते हैं। इस प्रकार एक बड़ा हिस्सा टैक्स के रूप में भी खरीदारी में जुड़ जाता है।