home page

यहां मर्दों को हर हालात में करनी पड़ती है 2 महिलाओं से शादी, मना करने पर सरकार की तरफ से मिलती है कठोर सजा

दुनियाभर के सैकड़ों देश अपनी-अपनी संस्कृति और परंपराओं (Culture and Traditions) के लिए जाने जाते हैं।
 | 
african-country-eritrea-necessary

दुनियाभर के सैकड़ों देश अपनी-अपनी संस्कृति और परंपराओं (Culture and Traditions) के लिए जाने जाते हैं। हर देश की भाषा, रहन-सहन और खानपान की आदतें (Lifestyle and Food Habits) विशेष और अनोखी होती हैं। जीवन के हर पड़ाव चाहे वह जन्म हो, शादी हो या मृत्यु, सभी कुछ समाज के नियमों (Social Norms) और रीति-रिवाजों के अनुसार मनाया जाता है। इन्हीं परंपराओं में से एक है दो शादियों की अनूठी प्रथा जिसे अफ्रीका के एक देश इरीट्रिया (Eritrea) ने कानूनी रूप दिया है।

सरकारी आदेश और इसके पीछे का कारण

इरीट्रिया में पुरुषों के लिए दो शादियां करना केवल एक परंपरा नहीं बल्कि एक कानूनी आवश्यकता (Legal Requirement) है। यहां की सरकार ने ऐसा कानून बनाया है जिसके तहत हर पुरुष को दो शादियां करनी अनिवार्य है। इस नियम का पालन न करने पर सजा का प्रावधान है, जो कि जेल तक जा सकता है। इस प्रथा के पीछे का कारण पुरुषों की तुलना में महिलाओं की अधिक संख्या (Gender Ratio) है। इस प्रकार सरकार इस असंतुलन को संभालने का प्रयास कर रही है।

दुनियाभर में आलोचना

इस अजीबोगरीब कानून ने न केवल देश के अंदर बल्कि विश्व स्तर पर भी आलोचना (International Criticism) को जन्म दिया है। इरीट्रिया जो कि विश्व के सबसे कम विकसित देशों (Least Developed Countries) में से एक है, की मानवाधिकार स्थिति (Human Rights Situation) पहले से ही खराब मानी जाती है। इस प्रकार के कानून ने देश की छवि को और भी अधिक प्रभावित किया है।

आइसलैंड का उदाहरण

इरीट्रिया के विपरीत आइसलैंड (Iceland) जैसे देशों ने भी अपनी जनसंख्या और सामाजिक संतुलन को बनाए रखने के लिए अनोखे उपाय अपनाए हैं। आइसलैंड में शादी के प्रोत्साहन (Marriage Incentives) के रूप में लुभावने ऑफर दिए जाते हैं, जैसे कि विदेशियों को शादी करने पर नागरिकता (Citizenship) और नकद राशि प्रदान करना। यह प्रकार के उपाय समाज में संतुलन और विविधता (Diversity) को बढ़ावा देने के लिए किए जाते हैं।