home page

Haryana School: हरियाणा में अस्थाई मान्यता प्राप्त स्कूलों की सरकार ने बढ़ाई टेन्शन, खट्टर सरकार ने जारी किए ये सख्त आदेश

हरियाणा में अस्थाई मान्यता पर चल रहे 363 निजी स्कूलों में से केवल 41 स्कूलों ने ही आश्वासन फीस जमा कराई है। यह एक चिंताजनक स्थिति है
 | 
strict-action-will-be-taken-against-schools

हरियाणा में अस्थाई मान्यता पर चल रहे 363 निजी स्कूलों में से केवल 41 स्कूलों ने ही आश्वासन फीस जमा कराई है। यह एक चिंताजनक स्थिति है, जो स्कूल संचालकों के असहयोग को दर्शाती है। सरकार द्वारा दी गई राहत के बावजूद, अधिकांश स्कूल संचालक अपनी जिद पर अड़े हुए हैं। 

शिक्षा निदेशालय के निर्देश और स्कूलों की चुनौतियां 

शिक्षा निदेशालय ने हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड को पोर्टल खोलने के निर्देश दिए हैं ताकि संबंधित स्कूल विलंब शुल्क के साथ आश्वासन राशि और संबद्धता शुल्क का भुगतान कर सकें। इससे यह साफ है कि स्कूलों को अपने प्रयासों को बढ़ाना होगा और सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा। 

सरकारी आदेशों का महत्व और छात्रों का भविष्य

शिक्षा विभाग ने अस्थायी रूप से मान्यता प्राप्त स्कूलों को स्थायी मान्यता प्राप्त करने के लिए आश्वासन राशि जमा करने का आदेश दिया है। यह कदम छात्रों के हित में उठाया गया है, ताकि उनका एक भी साल बर्बाद न हो। स्कूलों को इस आदेश का पालन करना चाहिए ताकि छात्रों की पढ़ाई में कोई बाधा न आए।