home page

पंजाब में राशन कार्डधारकों के लिए आई बड़ी खुशखबरी, सरकार ने किया बड़ा ऐलान

पंजाब सरकार के नए दिशा-निर्देशों के चलते लुधियाना जिले में 40 हजार परिवारों के राशन कार्ड (Ration Card) रद्द किए गए थे।
 | 
news-for-ration-card-holders-in-punjab

पंजाब सरकार के नए दिशा-निर्देशों के चलते लुधियाना जिले में 40 हजार परिवारों के राशन कार्ड (Ration Card) रद्द किए गए थे। इस कदम से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PM Garib Kalyan Anna Yojana) से जुड़े परिवारों के बीच बड़ा हंगामा उठ खड़ा हुआ। राजनीतिक गलियारों में भी इसे लेकर खूब चर्चा हुई।

राशन कार्ड रद्द होने का प्रभाव

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग (Food and Supply Department) द्वारा इन परिवारों का डाटा सरकारी पोर्टल पर फिर से चढ़ाया गया है, जिसके चलते इन परिवारों को इसी माह से फिर से अनाज योजना का लाभ मिलने की उम्मीद है। यह खबर उन परिवारों के लिए राहत की सांस लेकर आई है जो एक वर्ष पहले इस योजना से वंचित कर दिए गए थे।

विवाद की जड़

पंजाब सरकार की ओर से री-वेरिफिकेशन (Re-verification) का आदेश दिए जाने के बाद बड़ी संख्या में गरीब और जरूरतमंद परिवारों के राशन कार्ड रद्द कर दिए गए थे। इस निर्णय से उन परिवारों पर बुरा प्रभाव पड़ा, जो वास्तव में योजना के हकदार थे।

आरोप और प्रतिक्रियाएं

इस निर्णय के खिलाफ उठे विरोध और धरने प्रदर्शनों (Protests) में न केवल संबंधित परिवारों ने भाग लिया, बल्कि विपक्षी पार्टियों और सामाजिक संगठनों ने भी पंजाब सरकार के इस निर्णय की आलोचना की। आरोप लगाया गया कि जिला प्रशासनिक अधिकारियों ने बिना जमीनी सच्चाई खंगाले ही गरीब और जरूरतमंद परिवारों के राशन कार्ड रद्द कर दिए।

पंजाब सरकार की ओर से उठाए गए कदमों की सराहना की जा रही है, जिससे गरीब और जरूरतमंद परिवारों को उनका हक मिल सके। मुख्यमंत्री भगवंत मान (CM Bhagwant Mann) द्वारा सभी कल्याणकारी योजनाओं की निगरानी करने के वचन से उम्मीद बंधी है कि योजना का लाभ उन तक पहुंचेगा, जो इसके असली हकदार हैं।