home page

गूगल मैप को सिरियस लेकर ड्राइविंग करना बंदे को पड़ा भारी, ऐसी जगह फ़ंसी गाड़ी की लोगों के उड़ गये होश

टेक्नोलॉजी ने इंसानी जीवन में क्रांति लाई है जिसके चलते हमारे दैनिक कार्य आसान और तेज हो गए हैं। अंतरिक्ष की खोज से लेकर रोजमर्रा के कामों तक, टेक्नोलॉजी ने हमारी बहुत सहायता की है।
 | 
man-using-google-maps-to-reach-karnataka

टेक्नोलॉजी ने इंसानी जीवन में क्रांति लाई है जिसके चलते हमारे दैनिक कार्य आसान और तेज हो गए हैं। अंतरिक्ष की खोज से लेकर रोजमर्रा के कामों तक, टेक्नोलॉजी ने हमारी बहुत सहायता की है। हालांकि, कई बार इसके भ्रामक परिणाम भी सामने आते हैं, जैसे कि गूगल मैप के मामले में देखा जाता है। 

गूगल मैप की भूलभुलैया 

तमिलनाडु के एक व्यक्ति के साथ हुई घटना इसका ताजा उदाहरण है। उस व्यक्ति ने कर्नाटक की यात्रा के लिए गूगल मैप पर भरोसा किया था, लेकिन मैप की गलत दिशा-निर्देशन के कारण वह अपनी कार सहित एक असाधारण स्थिति में फंस गया। वीडियो में दिखाया गया है कि कैसे उनकी कार सीढ़ियों में अटक गई थी। 

गूगल मैप के पहले के मामले

यह पहली बार नहीं है जब गूगल मैप के कारण ऐसी घटना घटी हो। पिछले वर्ष नवंबर में, अमेरिका के एक परिवार ने लास वेगास से कैलिफोर्निया वापस लौटते समय गूगल मैप का इस्तेमाल किया था, लेकिन मैप ने उन्हें एक ऐसे रास्ते पर ले जाकर छोड़ दिया जो सीधे रेगिस्तान में जाकर खत्म होता था। 

आगे क्या करें? 

इन घटनाओं से यह सीखने को मिलता है कि टेक्नोलॉजी, जितनी भी उन्नत हो, हमेशा सतर्कता और स्थानीय ज्ञान के साथ इसका उपयोग करना चाहिए। यह हमारे लिए एक अनुस्मारक है कि टेक्नोलॉजी को अंधाधुंध न अपनाएं और हमेशा अपने आसपास की स्थिति के प्रति सजग रहें।