home page

Best Train Routes: भारत के इन 6 ट्रेन रूट्स पर घूम लेंगे तो छुट्टियों का मजा हो जाएगा दोगुना, खूबसूरती देखकर तो दिल हो जाएगा खुश

Best Train Routes: गर्मी का मौसम न सिर्फ तापमान को बढ़ाता है बल्कि बच्चों की छुट्टियों के साथ यह हमें नई जगहों की सैर करने का एक सुनहरा मौका भी देता है।
 | 
_Memorable Train Routes In India everyone should visit in this summer

Best Train Routes: गर्मी का मौसम न सिर्फ तापमान को बढ़ाता है बल्कि बच्चों की छुट्टियों के साथ यह हमें नई जगहों की सैर करने का एक सुनहरा मौका भी देता है। घर के छोटे बच्चों के एग्जाम खत्म होने के साथ ही गर्मी की छुट्टियों का आगाज़ होता है।

इस दौरान हर कोई उमस भरे मौसम से राहत पाने और छुट्टियों का लुत्फ उठाने के लिए कहीं घूमने जाने की सोचता है। इस बार अगर आप भी अपने परिवार के साथ क्वालिटी टाइम बिताना चाहते हैं, तो क्यों न ट्रेन का सफर करने का विचार करें।

दार्जिलिंग हिमालयन है प्रकृति की गोद में

भारत का सबसे पुराना नैरो-गेज रेलवे ट्रैक दार्जिलिंग हिमालयन आपको न्यू जलपाईगुड़ी से दार्जिलिंग तक की यात्रा कराता है। इस रेल मार्ग पर यात्रा करते समय आप हिमालय की अद्भुत सुंदरता के साक्षी बनेंगे। यह यात्रा आपको हरे-भरे जंगलों और चाय के बागानों के बीच से ले जाती है, जो निश्चित रूप से आपकी यात्रा को यादगार बना देगी।

कांगड़ा घाटी रेल मार्ग

कांगड़ा घाटी रेलवे मार्ग जो पठानकोट से हिमाचल प्रदेश के जोगिंदर नगर तक फैला है, अपनी शानदार सुरंगों और हरियाली से भरपूर नज़ारों के लिए जाना जाता है। इस सफर में आप प्रकृति की गोद में बैठकर अपने आस-पास की सुंदरता को निहार सकते हैं।

कालका से शिमला रेल मा

कालका से शिमला तक की टॉय ट्रेन यात्रा आपको भारत की ग्रीष्मकालीन राजधानी और शेष भारतीय रेलवे नेटवर्क के बीच के ऐतिहासिक संबंधों से परिचित कराती है। इस ट्रैक पर आप 102 सुरंगों, 87 पुलों और 900 से अधिक मोड़ों के माध्यम से यात्रा करेंगे, जो निस्संदेह आपकी यात्रा को हमेशा के लिए यादगार बना देगा।

जम्मू से बारामूला रेल्वे रूट

जम्मू से बारामूला तक का रेलवे मार्ग आपको उत्तरी भारत के कुछ सबसे चुनौतीपूर्ण और सुंदर नज़ारों से गुजारता है। यह मार्ग 700 से अधिक पुलों और कई सुरंगों से होकर गुजरता है, जो आपको पहाड़ों और चिनाब नदी के अद्भुत दृश्य प्रदान करता है।

कन्याकुमारी से त्रिवेन्द्रम रेल मार्ग है तीन समुद्रों का मिलन

कन्याकुमारी से त्रिवेन्द्रम तक की रेल यात्रा में आप अरब सागर, बंगाल की खाड़ी और हिंद महासागर के संगम को देख सकते हैं। इस यात्रा में आप बैकवाटर, हरी-भरी हरियाली और दक्षिण भारतीय व्यंजनों के साथ अद्भुत नजारों का आनंद ले सकते हैं।

मेट्टुपालयम से ऊटी रेलमार्ग

'दक्षिण की टॉय ट्रेन' पर सवार होकर मेट्टुपालयम से ऊटी तक की यात्रा आपको घुमावदार पहाड़ियों, क्रिस्टल क्लियर पानी वाली झीलों और हरी-भरी घाटियों के बीच से गुजारती है। यह यात्रा न सिर्फ आपको प्रकृति के करीब लाती है, बल्कि आपको एक जादुई अनुभव भी प्रदान करती है।