home page

इस जगह जूतों को जमा करवाने पर मिलती है बीयर, होटल मालिक के इस अनोखे जुगाड़ को देख आप भी देंगे शाबाशी

हर देश में कुछ न कुछ ऐसे नियम होते हैं, जिन्हें सुनकर या जानकर हमें अचरज होता है। ऐसे ही अनोखे और असाधारण (unique and extraordinary) नियमों की खोज में हम बेल्जियम के एक बार तक पहुँचे हैं.
 | 
really-possible-to-get-beer-here-by-giving-junk-shoes-know-what-is-its-truth

हर देश में कुछ न कुछ ऐसे नियम होते हैं, जिन्हें सुनकर या जानकर हमें अचरज होता है। ऐसे ही अनोखे और असाधारण (unique and extraordinary) नियमों की खोज में हम बेल्जियम के एक बार तक पहुँचे हैं. जहाँ आपको जूते जमा करने पर ही बीयर (beer) का आनंद मिलता है। यह सुनने में भले ही अजीब लगे, परंतु इस नियम के पीछे की वजह बेहद दिलचस्प है।

बीयर के लिए जूतों का अदान-प्रदान

कई लोग सोचते हैं कि बेल्जियम के इस बार में किसी भी प्रकार के जूते जमा कर देने भर से उन्हें बीयर मिल जाएगी। लेकिन यहाँ जूतों के सोल (sole) की अच्छाई पर भी ध्यान दिया जाता है। फ्लिप-फ्लॉप और सैंडल (flip-flops and sandals) जैसे जूते स्वीकार्य नहीं हैं। इसके अलावा जूते जमा कराना आपके बीयर के पैसे माफ होने का संकेत नहीं है; यह सिर्फ एक गारंटी है कि आप बार के ग्लास (glass) को नहीं चुराएंगे।

ग्लास चोरी से निजात

बार वाले इस अनूठे नियम को क्यों अपनाते हैं, इसके पीछे की वजह है ग्लास चोरी (glass theft)। पहले बेल्जियम के बार मालिक बीयर के ग्लास चोरी होने से काफी परेशान थे। इस समस्या का हल निकालते हुए उन्होंने यह नियम बनाया। अब जब तक कोई अपना जूता जमा नहीं करा देता, तब तक उसे बीयर नहीं दी जाती। ग्राहकों को उनके जूते तब वापस मिलते हैं, जब वे बीयर पीकर और ग्लास लौटाकर जाते हैं।

ग्राहकों की प्रतिक्रिया और अनुभव

अधिकतर लोग इस नियम का पालन करते हैं और बीयर के लिए अपने जूते खुशी-खुशी जमा करा देते हैं। कुछ लोग इसे बेहद क्रीएटिव और मनोरंजक (creative and entertaining) मानते हैं, जबकि कुछ के लिए यह थोड़ा असहज (uncomfortable) हो