home page

ATM यूजर्स को बैंक की तरफ से मुफ्त में मिलती है जबरदस्त सुविधाएं, पढ़े लिखे लोगों को भी नही होती जानकारी

आजकल अधिकतर लोग इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते हैं। इंश्योरेंस आपको सुरक्षित करता है और किसी भी दुर्घटना के समय आपको आर्थिक सहायता देता है
 | 
Free gift from bank to ATM users

आजकल अधिकतर लोग इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदते हैं। इंश्योरेंस आपको सुरक्षित करता है और किसी भी दुर्घटना के समय आपको आर्थिक सहायता देता है।

हालाँकि, किसी भी इंश्योरेंस पॉलिसी का लाभ अक्सर आपको तभी मिलता है जब आप प्रीमियम देते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बीमा भी मुफ्त में मिल सकता है? यह सच है। दरअसल, आपका डेबिट कार्ड भी आपको बीमा प्रदान करता है।

कुछ डेबिट कार्ड 3 करोड़ रुपये तक का निशुल्क एक्सीडेंटल इंश्योरेंस देते हैं। यह निःशुल्क इंश्योरेंस कवरेज देता है और डेबिट कार्ड धारक से कोई प्रीमियम नहीं लिया जाता है और बैंकों द्वारा कोई अतिरिक्त दस्तावेज नहीं मांगा जाता है।

डेबिट कार्ड से भुगतान करने होंगे निर्धारित अवधि के भीतर

डेबिट कार्ड पर फ्री एक्सीडेंटल इंश्योरेंस के लिए कुछ शर्तों और नियमों का पालन करना होता है। इनमें से सबसे महत्वपूर्ण यह है कि कार्डधारक को उस डेबिट कार्ड से कुछ भुगतान निर्धारित अवधि के भीतर करने होते है।

विभिन्न बैंकों में एलिजिबल ट्रांजैक्शन करने के नियम अलग हैं

फ्री एक्सीडेंटल इंश्योरेंस कवरेज के लिए क्वालीफाई करने के लिए विभिन्न बैंकों ने अलग-अलग एलिजिबल ट्रांजैक्शन नियम निर्धारित किए हैं। उदाहरण के लिए, एचडीएफसी बैंक का मिलेनिया डेबिट कार्ड, घरेलू यात्रा पर 5 लाख रुपये और विदेशी यात्रा पर 1 करोड़ रुपये का फ्री इंश्योरेंस कवरेज देता है।

इंश्योरेंस पॉलिसी को इस कार्ड पर लागू करने के लिए कार्ड होल्डर को कम से कम 30 दिन में एक ट्रांजैक्शन करना होगा। कोटक महिंद्रा बैंक में फ्री इंश्योरेंस कवरेज पाने के लिए, क्लासिक डेबिट कार्ड धारकों को पिछले 30 दिनों के भीतर कम से कम 500 रुपये के दो ट्रांजैक्शन करने की आवश्यकता होती है।

डीबीएस बैंक इंडिया के इन्फिनिटी डेबिट कार्डधारकों को भी इंश्योरेंस कवरेज एक्टिवेट करने के लिए पिछले 90 दिनों के भीतर एक ट्रांजैक्शन करना होगा।

इंश्योरेंस कवरेज के लिए कौन सा ट्रांजैक्शन होगा पात्र?

ईटीनाउ को डीबीएस बैंक के एमडी और कंज्यूमर बैंकिंग ग्रुप के हेड प्रशांत जोशी ने बताया कि यूपीआई लेनदेन अक्सर बीमा कवरेज के पात्र नहीं होते हैं। हलाकि ई-कॉमर्स ऑनलाइन ट्रांजैक्शन या प्वाइंट ऑफ सेल (POS) ट्रांजैक्शन ट्रांजैक्शन इंश्योरेंस के लिए पात्र होते हैं।