home page

राजदूत तो मॉडल का नाम था फिर बाइक बनाने वाली कंपनी कौनसी थी, यामाहा नही बल्कि ये है कंपनी का नाम

राजदूत एक ऐसा मॉडल था जिसे भारतीय सड़कों पर चलाने का सपना हर किसी ने देखा था। इस मोटरसाइकिल को लेकर आने वाली कंपनी थी एस्कॉर्ट्स, जिसने यामाहा के साथ मिलकर इसे भारतीय बाजार में उतारा।
 | 
rajdoot-bike-details-know-what

राजदूत एक ऐसा मॉडल था जिसे भारतीय सड़कों पर चलाने का सपना हर किसी ने देखा था। इस मोटरसाइकिल को लेकर आने वाली कंपनी थी एस्कॉर्ट्स, जिसने यामाहा के साथ मिलकर इसे भारतीय बाजार में उतारा। 1962 में शुरू हुआ यह सफर वर्षों तक चला और राजदूत के नाम से विभिन्न मॉडल्स जैसे कि 125 सीसी, Rajdoot GTS 175 और बाद में 350 सीसी तक के मॉडल्स ने बाजार में धूम मचा दी।

राजदूत का योगदान और प्रभाव

राजदूत की खासियत इसका दमदार प्रदर्शन और साधारण लेकिन आकर्षक डिज़ाइन था। इसे विशेष रूप से रफ और टफ इस्तेमाल के लिए डिज़ाइन किया गया था, जिससे यह लंबे समय तक चलने वाली और कम मेंटेनेंस वाली बाइक के रूप में उभरी। 80 के दशक में जब एक बाइक का मालिक होना कई लोगों का सपना था, राजदूत ने इस सपने को साकार किया।

समय के साथ बदलाव और राजदूत की यादें

भले ही आज के समय में राजदूत का उत्पादन बंद हो चुका है, लेकिन इसकी यादें और इसकी विरासत आज भी लोगों के दिलों में जिंदा है। इसके प्रति लोगों की मोहब्बत और आदर इस बात का प्रमाण है कि राजदूत ने न केवल भारतीय सड़कों पर एक खास पहचान बनाई, बल्कि लोगों के दिलों में भी एक अमिट छाप छोड़ी। आज भी पुरानी बाइक्स के शौकीन राजदूत को खोजते हैं और इसे संजोकर रखते हैं।