home page

Alcohol in Car: इस कंडिशन में खड़ी गाड़ी में शराब पीते है तो होगी कानूनी कार्रवाई, बहुत कम लोगों को पता होनी है ये बात

Alcohol in Car: कार चाहे वह पर्सनल (Personal) हो या कमर्शियल (Commercial) एक प्राइवेट प्रॉपर्टी (Private Property) की तरह होती है, जहां खाने-पीने, सोने जैसे कई काम किए जा सकते हैं।
 | 
_ fine for drinking alcohol in the car (1)

Alcohol in Car: कार चाहे वह पर्सनल (Personal) हो या कमर्शियल (Commercial) एक प्राइवेट प्रॉपर्टी (Private Property) की तरह होती है, जहां खाने-पीने, सोने जैसे कई काम किए जा सकते हैं। लेकिन जब बात शराब (Alcohol) पीने की आती है, तो कई सवाल उठते हैं। शराब पीकर गाड़ी चलाने की मनाही (Prohibition) तो सभी जानते हैं, पर क्या खड़ी कार में बैठकर शराब पीना क़ानूनी रूप से गलत है? आइए इस विषय में गहराई से जानते हैं।

खड़ी कार में शराब पीने की कानूनी स्थिति 

खड़ी कार में शराब पीना वैध है या अवैध, यह मुद्दा काफी जटिल (Complex) है। यदि आपकी कार आपके निजी गैराज या घर की बाउंड्री के अंदर खड़ी है, तो आप बिना किसी कानूनी रोक-टोक के शराब पी सकते हैं। हालांकि यदि आपकी कार किसी पब्लिक प्लेस (Public Place) जैसे सड़क किनारे, बस स्टैंड या रेलवे स्टेशन पर खड़ी है तो ऐसे में शराब पीना गैरकानूनी हो जाता है।

शराब पीकर ड्राइविंग पर जुर्माने और सजा

मोटर व्हीकल एक्ट 1988 (Motor Vehicle Act 1988) के अनुसार शराब पीकर या ड्रग्स (Drugs) लेकर गाड़ी चलाना एक गंभीर अपराध है। अगर चालक के खून में निर्धारित मात्रा से अधिक एल्कोहल पाया जाता है तो उसे भारी जुर्माने के साथ-साथ जेल की सजा भी हो सकती है। पहली बार में 10,000 रुपए का जुर्माना और 6 महीने की जेल और दूसरी बार पकड़े जाने पर 15,000 रुपए और 2 साल तक की जेल का प्रावधान है।

कार में शराब ले जाने की लिमिट

शराब ले जाने की लिमिट राज्यों के कानूनों (State Laws) पर निर्भर करती है। जिन राज्यों में शराब प्रतिबंधित है, वहां दूसरे राज्य से शराब ले जाने पर कड़ी कार्रवाई हो सकती है, जिसमें 5000 रुपए का जुर्माना और 5 साल तक की कैद शामिल है। वहीं जिन राज्यों में शराब प्रतिबंधित नहीं है, वहां 1 से 2 लीटर तक शराब ले जाने की अनुमति है।