home page

हरियाणा के बाद राजस्थान के इन 3 जिलों में धारा 144 लागू, हरियाणा और पंजाब के इन रास्तों पर बढ़ाई सख्ताई

भारत में किसान आंदोलन (Farmers Protest) का मामला एक बार फिर से गर्माया हुआ है। इसके चलते राजस्थान के श्री गंगानगर जिले में धारा 144 (Section 144) लागू कर दी गई है।
 | 
Section 144 imposed in Sriganganagar

भारत में किसान आंदोलन (Farmers Protest) का मामला एक बार फिर से गर्माया हुआ है। इसके चलते राजस्थान के श्री गंगानगर जिले में धारा 144 (Section 144) लागू कर दी गई है। इसके अलावा पंजाब की ओर जाने वाली सड़कें भी बंद (Road Closure) कर दी गई हैं। यह कदम किसानों के दिल्ली बॉर्डर पर धरना-प्रदर्शन के मद्देनजर उठाया गया है।

कड़ी सुरक्षा और सड़कों का बंद होना

पुलिस के अनुसार 12 फरवरी को पंजाब और हरियाणा बॉर्डर (Punjab and Haryana Border) पूरी तरह से बंद रहेंगे। आईजी ओमप्रकाश पासवान की निगरानी में यह पूरी प्रक्रिया हो रही है। जनता से इन सड़कों पर न जाने की अपील की गई है। इसके साथ ही श्रीगंगानगर, अनूपगढ़ और हनुमानगढ़ के एसपी (SPs) के साथ संपर्क में रहकर 10 चौकियां स्थापित की गई हैं।

प्रतिबंध और आदेश

प्रशासन ने कुछ विशेष प्रतिबंध (Restrictions) लगाए हैं जिनमें धर्म, संप्रदाय या समुदाय के प्रति नफरत पैदा करने वाले प्रचार-प्रसार पर रोक शामिल है। इसके अलावा किसी भी प्रकार के आग्नेयास्त्र या घातक हथियारों (Firearms and Weapons) को बाहर ले जाना पूर्णतः प्रतिबंधित है। सिख परंपरा के अनुसार कृपाण ले जाने की अनुमति है।

पंजाब सीमा को सील करना

कानून और व्यवस्था (Law and Order) को बनाए रखने के लिए प्रशासन ने पंजाब सीमा को सील कर दिया है। ट्रैफिक को डायवर्ट (Traffic Diversion) किया गया है। श्री गंगानगर और अनूपगढ़ के कलेक्टरों ने धारा 144 के तहत कर्फ्यू लगाने का आदेश दिया है।

सार्वजनिक स्थानों पर प्रतिबंध

इस अवधि में किसी भी सार्वजनिक स्थान पर 20 या अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना प्रतिबंधित है। सार्वजनिक स्थान पर कोई भी सभा, जलसा, जुलूस या रोड मार्च की अनुमति नहीं होगी। लाउडस्पीकर्स (Loudspeakers) का उपयोग भी निश्चित समय के बाहर प्रतिबंधित है।