home page

इस शख्स के घर Income Tax के छापे में मिला 23 किलो सोना, निकली करोड़ों की दौलत तो शख्स ने लेने से किया मना

इत्र कारोबारी पीयूष जैन ने 135 कस्टम एक्ट के अंतर्गत कंपाउंडिंग की प्रक्रिया को स्वीकार करते हुए, 56.86 लाख रुपये की कंपाउंडिंग राशि जमा की है।
 | 
man-refuses-to-take-23-kg-gold-found-in-income-tax

इत्र कारोबारी पीयूष जैन ने 135 कस्टम एक्ट के अंतर्गत कंपाउंडिंग की प्रक्रिया को स्वीकार करते हुए, 56.86 लाख रुपये की कंपाउंडिंग राशि जमा की है। इसके साथ ही, उन्होंने 23 किलो सोने से अपना कोई संबंध न होने का दावा किया है। 

विदेशी मार्का सोना और पेनाल्टी 

पीयूष जैन पर विदेशी मार्का के सोने की बरामदगी के बाद कस्टम विभाग ने 60 लाख रुपये की पेनाल्टी लगाई थी। उन्होंने इस पेनाल्टी को जमा करने के बाद अपनी अपील वापस ले ली है। 

कंपाउंडिंग प्रक्रिया और कानूनी राहत 

पीयूष जैन ने स्पेशल सीजेएम की कोर्ट में शपथ पत्र देकर कस्टम एक्ट के मामले में राहत मांगी है। इसके बाद डीआरआई लखनऊ ने कोर्ट में जवाब दाखिल करने के लिए समय मांगा है। 

कार्रवाई और बरामदगी की जांच 

27 दिसंबर 2021 को डीआरआई लखनऊ ने कन्नौज में पीयूष जैन के परिसरों पर छापेमारी कर 23 किलो सोना बरामद किया था। इसके अलावा कानपुर में भी छापे मारे गए थे जहां से 196 करोड़ रुपये नकद बरामद हुए थे। 

कानूनी दायित्व और आगे की कार्रवाई 

इस केस में अब कानूनी प्रक्रिया आगे बढ़ रही है, जहां पीयूष जैन ने कस्टम विभाग के सामने अपनी अपील वापस लेने के बाद अब अदालत से राहत मांगी है। इस पर डीआरआई ने अपना जवाब दाखिल करने के लिए समय मांगा है।