Delhi Meerut Expressway: कार से मेरठ जाने वालों के लिए टोल रेट्स में हुई बढ़ोतरी, अब रोड पर निकलने से पहले रख लेना एक्स्ट्रा पैसे

By Ajay Kumar

Published on:

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर यात्रा करने वाले लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण खबर है। 2 जून की आधी रात से इस मार्ग पर टोल शुल्क में बढ़ोतरी हो जाएगी। चार पहिया वाहनों के लिए टोल दर में 5 से 10 रुपये की बढ़ोतरी होगी जबकि भारी वाहनों के लिए यह बढ़ोतरी 45 से 65 रुपये तक होगी। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) और टोल प्रबंधन कंपनी ने इस संबंध में सूचना जारी की है। यह बढ़ोतरी हर वित्तीय वर्ष के शुरुआत में आम है लेकिन इस वर्ष लोकसभा चुनाव के आचार संहिता के कारण इसे जून तक स्थगित कर दिया गया था।

क्या होगी नई टोल दरें?

इस बढ़ोतरी के बाद दिल्ली के सराय काले खां से मेरठ और वापसी पर कार से यात्रा करने वालों को अब 160 रुपये के बजाय 165 रुपये चुकाने होंगे। अन्य विभिन्न स्टॉप्स पर भी अनुरूप बढ़ोतरी की गई है। जैसे कि भोजपुर और रसूलपुर सिकरोड पर उतरने पर क्रमश: 140 और 110 रुपये की जगह अब यात्रियों को 145 और 115 रुपये चुकाने पड़ेंगे। इसी तरह छिजारसी टोल प्लाजा पर मासिक पास भी 330 रुपये से बढ़कर 340 रुपये हो जाएगा।

प्रभावित वाहन श्रेणियां और उनकी नई रेट्स

विभिन्न प्रकार के वाहनों के लिए टोल दरें अलग-अलग होंगी। उदाहरण के लिए कार और जीप (एलएमवी) के लिए सराय काले खां से काशी तक की दरें 165 रुपये से 250 रुपये के बीच होंगी। मिनी बस और छोटे माल वाहनों के लिए 265 से 400 रुपये, बस-ट्रक (2-एक्सल) के लिए 560 से 840 रुपये, 3 एक्सल वाहनों के लिए 610 से 915 रुपये, और 4 से 6 एक्सल वाहनों के लिए 875 से 1315 रुपये तक चुकाने पड़ेंगे।

यात्रियों और व्यापारियों पर प्रभाव

इस बढ़ोतरी से स्थानीय यात्रियों के साथ-साथ व्यापारियों पर भी आर्थिक बोझ पड़ेगा। इससे यात्रा खर्च में वृद्धि होगी जिसका सीधा असर दैनिक यात्रा करने वाले लोगों और माल ढुलाई करने वाले व्यवसायों पर पड़ेगा। इस वृद्धि का उद्देश्य सड़क सुधार और बेहतर सुविधाएँ प्रदान करना है परंतु इससे आम आदमी की जेब पर असर पड़ेगा।