home page

पीएम मोदी आज आदिवासी समूह को देंगे 7300 करोड़ की सौगात, इन बड़े प्राजेक्ट्स पर खर्च होगा करोड़ों का बजट

साल 2024 में रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) पहली बार इस साल मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले के गोपालपुरा में पहुंचे, जो लोकसभा चुनाव
 | 
pradhanamantri narendr modi

साल 2024 में रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) पहली बार इस साल मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले के गोपालपुरा में पहुंचे, जो लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) से पहले उनकी इस साल की पहली ऐसी यात्रा है। इस दौरान उन्होंने आदिवासी समुदाय (Tribal Community) से मुलाकात की और प्रदेश के एक बड़े वर्ग को साधने का प्रयास किया।

विकास परियोजनाओं का उद्घाटन

प्रधानमंत्री ने जिले में 7,300 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इस अवसर पर विशेष रूप से आदिवासियों और महिलाओं (Women) के लिए कुछ अहम घोषणाएं भी की गईं।

आदिवासी सम्मेलन और लोकसभा चुनाव की तैयारी

गोपालपुरा में होने वाले सम्मेलन में देश भर से आदिवासी हिस्सा लेंगे। इस यात्रा को लोकसभा चुनाव की तैयारी के हिस्से के तौर पर भी देखा जा रहा है। मध्य प्रदेश में आदिवासियों के छह लोकसभा सीटें आरक्षित हैं, जिससे इस दौरे का महत्व और भी बढ़ जाता है।

महिलाओं के लिए विशेष घोषणाएँ

प्रधानमंत्री ने राज्य की आहार अनुदान योजना के तहत लगभग दो लाख महिला लाभार्थियों को मासिक किस्त देने की घोषणा की। योजना के तहत विशेष रूप से पिछड़ी जनजातियों की महिलाओं को पौष्टिक भोजन के लिए 1,500 रुपये प्रति माह प्रदान किए जाते हैं।

स्वामित्व योजना और अधिकार अभिलेख

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के तहत 1.75 लाख 'अधिकार अभिलेख' वितरित करेंगे, जिससे लोगों को उनकी भूमि और संपत्ति के अधिकारों का सही रिकॉर्ड मिल सके।

टंट्या मामा भील विश्वविद्यालय

प्रधानमंत्री ने टंट्या मामा भील विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी, जो 170 करोड़ रुपये की लागत से विकसित होने वाला है। यह विश्वविद्यालय राज्य के आदिवासी बहुल जिलों के युवाओं को विश्व स्तरीय शिक्षा और बुनियादी ढांचा प्रदान करेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह दौरा न केवल मध्यप्रदेश के विकास के लिए महत्वपूर्ण है, बल्कि आदिवासी समाज और महिलाओं के उत्थान के लिए भी कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं। यह दौरा लोकसभा चुनाव की तैयारी के लिए एक मजबूत आधार भी प्रदान करता है।