home page

यूपी के स्कूलों के लिए एक लाख इलेक्ट्रिक बसें लेगी योगी सरकार, सीएम योगी ने लिया बड़ा फैसला

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के विकास और पर्यावरण संरक्षण की दिशा में एक बड़े कदम की घोषणा की है।
 | 
lucknow city big decision of cm yogi adityanath

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के विकास और पर्यावरण संरक्षण की दिशा में एक बड़े कदम की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि सरकार ने प्रदेश के स्कूलों में संचालित हो रही एक लाख बसों को इलेक्ट्रिक बसों (Electric Buses) से बदलने का निर्णय लिया है। इस कदम से न केवल पर्यावरण की सुरक्षा होगी बल्कि यह प्रदेश के विकास में भी एक महत्वपूर्ण योगदान देगा।

अशोक लीलैंड का ईवी प्लांट

लखनऊ के सरोजनी नगर में स्कूटर इंडिया की भूमि पर अशोक लीलैंड (Ashok Leyland) के ईवी प्लांट की स्थापना उत्तर प्रदेश में इलेक्ट्रिक वाहनों की दिशा में एक बड़ी पहल है। इस प्लांट के माध्यम से इलेक्ट्रिक बसों और अन्य वाहनों के उत्पादन से प्रदेश के एक लाख गांवों को शहरों से जोड़ने में मदद मिलेगी। यह प्लांट न केवल पर्यावरण की रक्षा करेगा बल्कि नवीन और स्वच्छ ऊर्जा स्रोतों के प्रति एक मजबूत कदम भी साबित होगा।

ईवी बाजार के लिए उत्तर प्रदेश तैयार

मुख्यमंत्री ने बताया कि उत्तर प्रदेश ईवी बाजार (EV Market) के लिए पूरी तरह से तैयार है और अब सिर्फ उत्पादन का इंतजार है। उन्होंने अशोक लीलैंड और अन्य निर्माताओं से इस बाजार का लाभ उठाने और ईवी की जरूरतों को पूरा करने की अपील की। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश का बाजार केवल राज्य तक ही सीमित नहीं है बल्कि बिहार, मध्यप्रदेश और नेपाल से भी जुड़ा है।

सरकार की ईवी नीति और सब्सिडी

उत्तर प्रदेश सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों (EV Policy) को बढ़ावा देने के लिए नई नीति बनाई है और हर इलेक्ट्रिक बस के निर्माण पर सब्सिडी (Subsidy) भी दी जा रही है। यह नीति निवेशकों के लिए एक आकर्षक अवसर प्रदान करती है और प्रदेश में ईवी के विकास को गति देगी।