home page

यूपी के इस जिले में 300 करोड़ की लागत से बनेगा 1.6 किमी का एलिवेटेड फ्लाईओवर, जमीन की कीमतों में आया तगड़ा उछाल

उत्तर प्रदेश के विकास की नई कहानी लिखी जा रही है, जहां पड़ाव से गोधना मोड़ तक सिक्स लेन (Six Lane) सड़क का निर्माण उम्मीदों की नई सड़क बनकर उभर रहा है।
 | 
chandauli-1-6-km-elevated-flyover-will

उत्तर प्रदेश के विकास की नई कहानी लिखी जा रही है, जहां पड़ाव से गोधना मोड़ तक सिक्स लेन (Six Lane) सड़क का निर्माण उम्मीदों की नई सड़क बनकर उभर रहा है। लोक निर्माण विभाग (PWD) ने इस दिशा में कमर कस ली है, और इस परियोजना को समय सीमा के अंदर पूरा करने की उम्मीद है।

सिक्स लेन सड़क का आगाज

प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र को जोड़ने वाली यह सड़क (Road) विकसित उत्तर प्रदेश (Developed Uttar Pradesh) के स्तंभ के रूप में उभरेगी। सुभाष नगर से चकिया तिराहा तक 1.6 किमी के एलिवेटेड फ्लाईओवर (Elevated Flyover) का निर्माण, जिसकी लागत तीन सौ करोड़ रुपये है, नगर में जाम (Traffic Jam) की समस्या को दूर करने में मदद करेगा।

निर्माण की लागत और प्रगति

लोक निर्माण विभाग द्वारा इस परियोजना पर 328 करोड़ रुपये (328 Crore Rupees) खर्च किए जा रहे हैं। फिलहाल सिक्स लेन निर्माण का कार्य 60 प्रतिशत (60 Percent) पूरा हो चुका है, जो सीधे नेशनल हाईवे 19 (National Highway 19) को जोड़ेगी।

दीर्घकालिक दृष्टिकोण और सुविधाएँ

पड़ाव चौराहे का डिजाइन ऐसा है कि यह सड़क 30 वर्षों तक (30 Years) टिकाऊ रहेगी। साढ़े दस मीटर की सिक्स लेन और सात मीटर चौड़ी सर्विस रोड (Service Road) के साथ, यह सड़क न सिर्फ यातायात को सुगम बनाएगी बल्कि स्थानीय लोगों के लिए भी सुविधाजनक रहेगी।

निगरानी और गुणवत्ता आश्वासन

लखनऊ मुख्यालय (Lucknow Headquarters) से इस परियोजना पर निगरानी रखी जा रही है, और कार्यदायी संस्था को गारंटी (Guarantee) के तहत दो वर्ष की देखरेख का भी जिम्मा है। यह सुनिश्चित करता है कि सड़क निर्माण में कोई समझौता न हो।

जनपद और औद्योगिक क्षेत्र का नया प्रवेश द्वार

इस सड़क को जनपद और औद्योगिक क्षेत्र (Industrial Area) का प्रवेश द्वार कहा जाएगा, जो वाराणसी और आसपास के क्षेत्रों के लिए एक प्रतीकात्मक झलक भी प्रदान करेगा।