home page

हरियाणा की इस बहु ने विदेशों में पहुंचा दिया स्वदेशी स्वाद, किया ऐसा काम की दूसरे देश में बैठे लोग कर रहे वाहवाही

भिवानी के कस्बा बहल से निकली रेखा रानी ने अपने घरेलू किचन से शुरू किए गए मसाला उत्पादन (Spice Production) के कारोबार को वैश्विक पटल पर स्थापित किया है।
 | 
amazing-work-of-this-daughter-in-law-of-haryana

भिवानी के कस्बा बहल से निकली रेखा रानी ने अपने घरेलू किचन से शुरू किए गए मसाला उत्पादन (Spice Production) के कारोबार को वैश्विक पटल पर स्थापित किया है। राजस्थान के हनुमानगढ़ की मूल निवासी रेखा के उत्पाद आज अंतर्राष्ट्रीय बाजार (International Market) में भारतीय स्वाद की धारणा को नई पहचान दे रहे हैं।

उद्यमिता की ओर पहला कदम

रेखा ने अपने उद्यमिता सफर (Entrepreneurial Journey) की शुरुआत करीब दो साल पहले की थी जब उन्होंने घर पर ही मसाले, अचार, गेहूं का दलिया और बाजरे की खिचड़ी तैयार करना शुरू किया। इन उत्पादों की महक और स्वाद ने देश के कोने-कोने तक उनकी पहचान बनाई।

वैश्विक पहचान और प्रभाव

रेखा के मसाले और अचार ने न सिर्फ भारतीय बाजारों में अपनी जगह बनाई है बल्कि अमेरिका (USA) जैसे देशों में भी उनके उत्पादों को खास पसंद किया जा रहा है। इससे भारतीय मसालों का स्वाद विश्व स्तर पर फैल रहा है।

पारिवारिक समर्थन और स्वरोजगार की दिशा

रेखा का परिवार उनके इस बिजनेस सफर में उनके साथ खड़ा है। उनके पति संदीप तिवारी एक टीचर हैं और उनकी बेटी इशिका तिवारी भी उनके काम में उनका हौसला बढ़ाती हैं। रेखा ने हाल ही में प्रधानमंत्री मुद्रा लोन (PM Mudra Loan) के तहत दस लाख रुपये का ऋण लेकर अपना खुद का कारोबार स्थापित किया है।

समाज में महिला सशक्तिकरण की नई रेखा

रेखा की सफलता ने आसपास के गांवों की अन्य महिलाओं को भी प्रेरित किया है। गांव सुरपुरा, गोकुलपुरा, बिधनोई जैसे इलाकों की महिलाएं भी अब मसालों की दुकानें खोलकर अपने परिवारों को आर्थिक रूप से मजबूत बना रही हैं। रेखा की यह यात्रा न सिर्फ उनके लिए बल्कि समाज के लिए भी एक मिसाल है।