home page

हरियाणा पुलिस में 6000 पदों पर निकली सिपाहियों की भर्ती पर हुआ कोर्ट केस, जाने क्या है पूरा मामला

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (HSSC) ने हाल ही में एक बड़ी घोषणा की है, जिसके अनुसार 6,000 पुलिस कांस्टेबल (Police Constable) के पदों पर भर्तियाँ की जाएंगी।
 | 
case-filed-against-recruitment-of-6000-constables

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग (HSSC) ने हाल ही में एक बड़ी घोषणा की है, जिसके अनुसार 6,000 पुलिस कांस्टेबल (Police Constable) के पदों पर भर्तियाँ की जाएंगी। यह भर्ती प्रक्रिया 20 फरवरी से शुरू हो चुकी है और 21 मार्च 2024 तक चलेगी। इसमें 5,000 पुरुष और 1,000 महिला सिपाहियों (Male and Female Constables) को चुना जाएगा। यह अवसर उन सभी CET (Common Eligibility Test) क्वालीफाई उम्मीदवारों के लिए है जो इस प्रतिष्ठित पद के लिए आवेदन करना चाहते हैं।

चयन प्रक्रिया का रोमांच

चयन प्रक्रिया में तीन मुख्य चरण शामिल हैं प्रारंभिक मेडिकल टेस्ट (PMT), फिजिकल स्टैंडर्ड टेस्ट (PST), और अंत में लिखित परीक्षा (Written Exam)। PMT में सफल उम्मीदवारों को PST के लिए बुलाया जाएगा और इसके पास होने के बाद, उन्हें लिखित परीक्षा का सामना करना पड़ेगा। इस भर्ती प्रक्रिया में आयु सीमा में छूट (Age Relaxation) भी शामिल है, जो कई उम्मीदवारों के लिए एक बड़ी राहत हो सकती है।

भर्ती पर उठे विवाद

हालांकि इस भर्ती प्रक्रिया पर कुछ विवाद (Controversy) भी सामने आए हैं। इस भर्ती को लेकर कोर्ट केस (Court Case) दर्ज किया गया है। मुख्यतः, वे युवा जो CET पास नहीं हैं, उनका कहना है कि उन्हें भी इस प्रक्रिया में शामिल होने का मौका मिलना चाहिए। इस मुद्दे पर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट (Punjab-Haryana High Court) में याचिका दायर की गई है।

योग्यता की चुनौतियां

कई युवा जिन्होंने हाल ही में 12वीं कक्षा पास की है, वे भी इस भर्ती से वंचित (Deprived) रह गए हैं। ऐसे उम्मीदवार जो किसी कारण से CET परीक्षा नहीं दे पाए, वे भी इस परीक्षा में भाग नहीं ले पा रहे हैं। सरकार की CET पॉलिसी (CET Policy) के अनुसार, हर साल इस परीक्षा का आयोजन किया जाना अनिवार्य है, जिससे कुछ युवाओं को इस अवसर से वंचित होना पड़ रहा है।