home page

हरियाणा में अब प्लास्टिक की बोतल में नही बिकेगी देशी शराब, सरकार का बड़ा फैसला

रविवार को चंडीगढ़ में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान हरियाणा की डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने जीएसटी के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां साझा की.
 | 
 dushyant Chautala

रविवार को चंडीगढ़ में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान हरियाणा की डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने जीएसटी के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां साझा की. उन्होंने बताया कि जीएसटी कलेक्शन में पिछले 4 सालों में 30% की बढ़ोतरी देखी जा सकती है. सरकार ने अब 36000 करोड रुपए का जीएसटी कलेक्शन का लक्ष्य रखा है, जिसे जल्द से जल्द पूरा कर लिया जाएगा.

प्लास्टिक की बोतलों में नहीं मिलेगी शराब

उपमुख्यमंत्री ने बताया कि 2019- 2020 में एक्साइज टैक्स के द्वारा 6,361 करोड़ रुपए सरकार को प्राप्त हुए थे. दुष्यंत चौटाला ने बताया कि 1 मार्च 2024 से प्रदेश में प्लास्टिक की बोतलों में शराब को नहीं बेचा जाएगा. आपको बता दे की हरियाणा ऐसा करने वाला पहला राज्य बन जाएगा.

प्राप्त होगा 11,500 करोड़ का टैक्स

वही पिछले वर्ष 2023 में 9,687 करोड़ रुपए का टैक्स सरकार को प्राप्त हुआ. 28 जनवरी 2024 तक एक्साइज टैक्स द्वारा 9,232 करोड़  प्राप्त किया जा चुके हैं. उपमुख्यमंत्री ने बताया कि आबकारी- वर्ष में 10,500 करोड़ रुपए का लक्ष्य लेकर सरकार चल रही है परंतु उन्हें उम्मीद है कि इस वर्ष 11,500 तक ये आकड़ा जायेगा.