home page

Happy Card: हरियाणा में इन लोगों का 1000KM तक रोडवेज सफर होगा फ्री, इन डॉक्युमेंट की पड़ेगी जरूरत

Happy Card: प्रदेश सरकार ने प्रदेशवासियों के लिए एक नई योजना की शुरुआत की है जिसका नाम है 'हैप्पी कार्ड योजना'। इस योजना का उद्देश्य है प्रदेश के नागरिकों को यात्रा सुविधाओं में विशेष छूट प्रदान करना।
 | 
government news Haryana

Happy Card: प्रदेश सरकार ने प्रदेशवासियों के लिए एक नई योजना की शुरुआत की है जिसका नाम है 'हैप्पी कार्ड योजना'। इस योजना का उद्देश्य है प्रदेश के नागरिकों को यात्रा सुविधाओं में विशेष छूट प्रदान करना। खासकर वरिष्ठ नागरिकों को पहले ही परिवार पहचान पत्र के माध्यम से आधा किराया देने की सुविधा मिल चुकी है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए परिवारों को CSC केंद्रों के माध्यम से अपना ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

इनकम लिमिट और योजना के लाभ

राज्य सरकार उन परिवारों को एक हजार किलोमीटर की मुफ्त यात्रा का अवसर प्रदान कर रही है, जिनकी वार्षिक आय एक लाख रुपये से कम है। इसके लिए परिवार की कमाई का वेरिफ़िकेशन परिवार पहचान पत्र में किया गया है। जो परिवार इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, उन्हें अपने नजदीकी CSC ऑपरेटर से संपर्क करना होगा।

परिवार पहचान पत्र का महत्व

साल 2014 में आधार कार्ड को अनिवार्य करने के बाद राज्य सरकार ने पारदर्शिता के एक नए आयाम को अपनाया। धीरे-धीरे परिवार पहचान पत्र को लागू किया गया, जिससे प्रदेश की हर योजना को नागरिकों तक पहुँचाने में सहायता मिली। अब बिजली कनेक्शन से लेकर नौकरी के आवेदन तक, सब कुछ फैमिली आईडी से जोड़ा जा चुका है।

अंत्योदय परिवार परिवहन योजना

इस योजना के तहत परिवार के मुखिया को प्रत्येक सदस्य के लिए अलग-अलग फॉर्म भरना होगा। आधार नंबर के साथ ओटीपी वेरिफिकेशन के बाद ही कार्ड का वेरिफिकेशन होगा। इसके बाद परिवार को उस डिपो का चयन करना होगा जहाँ से वे कार्ड प्राप्त करना चाहते हैं, और कार्ड मिलने की तारीख भी निर्धारित हो जाएगी।

हरियाणा रोडवेज में योजना का लाभ

HAPPY CARD के साथ अंत्योदय परिवार के सदस्य हरियाणा रोडवेज की बसों में ही मुफ्त यात्रा का लाभ उठा सकते हैं। यात्रा के दौरान स्मार्ट कार्ड को स्वाइप करना होगा, जिससे निर्धारित दूरी में एक हजार किलोमीटर की कटौती होगी।

स्मार्ट कार्ड की उपलब्धता

ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के दौरान आवेदक को कार्ड प्राप्त करने के लिए एक निर्धारित तिथि मिलेगी। इस तिथि पर आवेदक को अपना परिवार पहचान पत्र और आधार कार्ड ले जाना होगा, जिसके बाद उन्हें कार्ड मिल जाएगा और वे मुफ्त यात्रा के पात्र बन जाएंगे।