Haryana School Holidays: हरियाणा के इस जिलें में बच्चों की हुई बल्ले-बल्ले, अब इस तारीख तक स्कूलों की रहेगी छुट्टियां

By Vikash Beniwal

Published on:

उत्तर भारत के कई हिस्से इन दिनों भीषण शीत लहर की चपेट में हैं। तापमान में लगातार गिरावट आ रही है और हर गुजरते दिन के साथ यह स्थिति गंभीर होती जा रही है। लोग मुश्किल से घरों से बाहर निकल पा रहे हैं और जो निकल रहे हैं वे ठंड से बचने के लिए भारी कपड़े पहन रहे हैं। इस भीषण शीत लहर के चलते जनजीवन प्रभावित हो गया है और लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

स्कूल 31 मई तक बंद रहेंगे

शीत लहर की गंभीरता को देखते हुए राज्य के कई हिस्सों में स्कूल बंद कर दिए गए हैं। इनमें से कई स्कूल सोमवार को खुलने वाले थे, लेकिन अब हिसार के उपायुक्त ने 31 मई तक बाल वाटिका कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा तक के सभी स्कूलों को बंद करने की घोषणा की है। यह निर्णय बच्चों की सुरक्षा और स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। स्कूलों के बंद होने से बच्चों को थोड़ी राहत मिलेगी और वे घर पर सुरक्षित रह सकेंगे।

डॉक्टरों की सलाह

शीत लहर के चलते डॉक्टरों ने बच्चों और बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखने की सलाह दी है। ठंड के कारण इन दोनों वर्गों को अधिक जोखिम होता है। बच्चों और बुजुर्गों की इम्यूनिटी कमजोर होती है, जिससे वे आसानी से ठंड की चपेट में आ सकते हैं। इसलिए, उन्हें गर्म कपड़े पहनाने, गर्म भोजन देने और घर के अंदर रखने की सलाह दी गई है।

आने वाले दिनों में गर्मी से कोई राहत नहीं मिलेगी

मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि हरियाणा और उत्तर भारत के अन्य हिस्सों में भीषण शीत लहर के बाद भी गर्मी से राहत नहीं मिलेगी। अगले 4-5 दिनों के दौरान हरियाणा में शुष्क मौसम की संभावना है और अधिकतम तापमान 45-46 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। अगले 3-4 दिनों में अधिकतम तापमान धीरे-धीरे 2-3 डिग्री बढ़ जाएगा, जिससे गर्मी की स्थिति और भी विकट हो सकती है। राज्य के उत्तरी हिस्सों में तापमान 42-44 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है।

बारिश की कोई संभावना नहीं

मौसम विभाग के अनुसार, अगले कुछ दिनों में बारिश की कोई संभावना नहीं है। इससे स्थिति और भी गंभीर हो सकती है क्योंकि बिना बारिश के तापमान में वृद्धि होगी और लोगों को गर्मी से कोई राहत नहीं मिलेगी। किसानों को भी इस स्थिति से परेशानी हो सकती है क्योंकि बिना बारिश के फसलों को नुकसान हो सकता है।

भीषण गर्मी के लिए तैयारी करें

मौसम विभाग की भविष्यवाणी के अनुसार आने वाले दिनों में गर्मी और बढ़ने की संभावना है। इसलिए, लोगों को इसके लिए तैयार रहना चाहिए। घरों में ठंडक बनाए रखने के उपाय करें, पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं और धूप में बाहर निकलने से बचें। विशेषकर बच्चों और बुजुर्गों का ध्यान रखें और उन्हें धूप में बाहर न जाने दें।

शीत लहर से बचाव के उपाय

शीत लहर से बचने के लिए कई उपाय किए जा सकते हैं। सबसे पहले, घर को गर्म रखने के लिए हीटर या ब्लोअर का इस्तेमाल करें। बच्चों और बुजुर्गों को गर्म कपड़े पहनाएं और उन्हें बाहर निकलने से बचाएं। भोजन में गर्म पेय पदार्थ और सूप शामिल करें, जिससे शरीर को गर्मी मिले। इसके अलावा, घर के अंदर रहकर व्यायाम करें, जिससे शरीर में गर्मी बनी रहे।

Vikash Beniwal

मेरा नाम विकास बैनीवाल है और मैं हरियाणा के सिरसा जिले का रहने वाला हूँ. मैं पिछले 4 सालों से डिजिटल मीडिया पर राइटर के तौर पर काम कर रहा हूं. मुझे लोकल खबरें और ट्रेंडिंग खबरों को लिखने का अच्छा अनुभव है. अपने अनुभव और ज्ञान के चलते मैं सभी बीट पर लेखन कार्य कर सकता हूँ.