मोदी सरकार ने लाखों मोबाइल नम्बर पर लिया बड़ा एक्शन, बंद करवाने के दे दिए आदेश

By Vikash Beniwal

Published on:

भारतीय टेलीकॉम विभाग (DoT) ने देशभर के मोबाइल ऑपरेटर्स को एक बड़ा निर्देश जारी किया है। विभाग ने लगभग 6 लाख 80 हजार मोबाइल कनेक्शनों की दोबारा जांच करने का आदेश दिया है। यह कदम उठाया गया है क्योंकि शक है कि ये कनेक्शन गलत, फर्जी या बनावटी पहचान और पते के दस्तावेजों के आधार पर पंजीकृत किए गए हो सकते हैं। इस प्रक्रिया के लिए मोबाइल कंपनियों को 60 दिन का समय दिया गया है।

फर्जी कनेक्शनों की जांच

टेलीकॉम विभाग ने इस निर्णय को लेने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) की सहायता ली है। AI ने उन संदिग्ध नंबरों को चिन्हित किया है जो संभवतः फर्जी दस्तावेजों के आधार पर पंजीकृत हुए हैं। DoT का मानना है कि ऐसे कनेक्शनों की वजह से फोन पर धोखाधड़ी की घटनाएं बढ़ रही हैं और इसीलिए इस प्रकार की जांच बहुत जरूरी है।

हालिया कार्रवाई और उसके परिणाम

विभाग ने पिछले हफ्ते बताया कि उन्होंने 1.7 करोड़ से अधिक फर्जी मोबाइल कनेक्शनों को बंद कर दिया है और लगभग 0.19 लाख मोबाइल फोन जो साइबर अपराध में शामिल थे उन्हें भी ब्लॉक कर दिया है। यह कार्रवाई गृह मंत्रालय, बैंकों और अन्य सरकारी विभागों से मिली जानकारी के आधार पर की गई। इस प्रक्रिया में विभाग ने 1.34 अरब मोबाइल कनेक्शनों की जांच की है।

चक्षु पोर्टल

सरकार ने नागरिकों को एक और सुविधा प्रदान की है। ‘चक्षु’ पोर्टल के माध्यम से लोग फोन कॉल, SMS, या व्हाट्सएप पर आने वाले किसी भी संदिग्ध या अनचाहे मैसेज की शिकायत कर सकते हैं। इस पोर्टल के माध्यम से अब तक DoT को 28,412 शिकायतें मिल चुकी हैं। जांच के बाद, विभाग ने 10,834 कनेक्शनों को चिन्हित किया है और 8,272 कनेक्शन जिनकी दोबारा जांच नहीं हुई, उन्हें बंद कर दिया गया है।

Vikash Beniwal

मेरा नाम विकास बैनीवाल है और मैं हरियाणा के सिरसा जिले का रहने वाला हूँ. मैं पिछले 4 सालों से डिजिटल मीडिया पर राइटर के तौर पर काम कर रहा हूं. मुझे लोकल खबरें और ट्रेंडिंग खबरों को लिखने का अच्छा अनुभव है. अपने अनुभव और ज्ञान के चलते मैं सभी बीट पर लेखन कार्य कर सकता हूँ.